You are here:

समाचार

उदीयमान सूर्य को अर्घ्य देने के साथ संपन्न हुआ छठ महापर्व

रांची। उदीयमान भगवान भास्कर को बुधवार को अर्घ्य देने के साथ ही लोक आस्था का महापर्व चैती छठ संपन्न हो गया। झारखंड के विभिन्न हिस्सों में इस दौरान छठ घाटों पर श्रद्धालुओं की काफी भीड़ देखी गई। सुबह छठ घाटों पर 4 बजे से ही श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी थी। इससे पहले मंगलवार को व्रतियों ने अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य अर्पित किया था।
छठ के गीतों से माहौल हुआ भक्तिमय
-इस दौरान घाट पर महिलाओं द्वारा गाए जा रहे छठी मईया आईं दुअरिया..., छठी मैया होखीं सहाय...जैसे गीत से पूरा माहौल भक्तिमय हो गया।
-व्रतियों और श्रद्धालुओं की मदद के लिए विभिन्न स्वयंसेवी संस्थाअों की ओर से शिविर लगाकर फ्री दातून, चाय, दूध आदि बांटा गया।
-व्रतियों ने नदी तालाब के किनारे भगवान भास्कर की आराधना की और अर्घ्य दिया। पूजा संपन्न होने के बाद घाट पर ही व्रती ने लोगों प्रसाद भी बांटा।

   

सवाल-स्कूल क्या है! जवाब-जहां हमारे बाप को लूटा और हमें कूटा जाता है

आरा.8 वीं बोर्ड की परीक्षा में कई छात्रों ने सवालों का अजब-गजब जवाब देकर आंसर सीट के मूल्यांकन करने वाले शिक्षकों को हैरत में तो डाला ही था। अब मैट्रिक की परीक्षा के आंसर सीट में भी छात्रों द्वारा अनाप-सनाप लिखे जाने का मामला प्रकाश में आया है। छात्रों की उल-जुलूल बातें पढ़कर सकते में पड़ रहे हैं शिक्षक...
बिहार के आरा में कॉपी चेक कर रहे शिक्षक एक छात्र का जवाब पढ़कर चौंक गए। छात्र ने अंग्रेजी की कॉपी के अंतिम पेज पर लिखा है- शिक्षक विद्यार्थी से सवाल पूछते हैं। सवाल- स्कूल क्या है, जवाब- स्कूल वह स्थान है। जहां हमारे बाप को लूटा जाता है तथा हमें कूटा जाता है। यह तो सिर्फ एक छात्र की बात है। ऐसे कई छात्रों ने उल-जुलूल बातें लिखी हैं, जिसे पढ़कर शिक्षक सकते में पड़ रहे हैं।
सर पिता जी बहुत गरीब हैं, पास कर दीजिएगा
मूल्यांकन कार्य में जुटे एक शिक्षक ने बताया कि कई परीक्षार्थियों ने उत्तर-पुस्तिका में सवालों का जवाब देने के बदले अटपटी बातें लिखी हैं। किसी ने खुद को गरीब होने का हवाला देकर पास करने की गुहार लगाई है। किसी ने लिखा है-सर मेरे पिता जी बहुत ही गरीब आदमी हैं। किसी तरह पास कर दीजिएगा। किसी ने अपना मोबाइल नंबर लिखकर बात करने का आग्रह किया है। कइयों ने आंसर सीट में प्रश्न-पत्रों को ही उतार दिया है।

   

VHP का मंदिर निर्माण के लिए अवेयरनेस प्रोग्राम, रामनवमी से पहले कैम्पेन शुरू

अयोध्या/लखनऊ (यूपी). वीएचपी ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए पब्लिक को जुटाने और उन्हें अवेयर करने का कैम्पेन शुरू किया है। इसके तहत वीएचपी वर्कर्स अयोध्या के आसपास 100 और यूपी में करीब 10 हजार गांवों में राम कथा करेंगे। 20 अप्रैल तक चलने वाले वीएचपी के इस कैम्पेन को देशभर के 1 लाख 15 हजार गांवों तक चलाने का प्लान है। रामनवमी के अवसर को खास चुना गया...
- एक वीएचपी मेंबर के मुताबिक, पब्लिक को मोबलाइज करने के लिए रामनवमी के अवसर को खास चुना गया है।
- बता दें, मंगलवार को यूपी के नए बीजेपी चीफ केशव प्रसाद मौर्या ने कहा था कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण उनकी पार्टी के लिए आस्था का मामला है।
- लेकिन उन्होंने साफ किया था कि बीजेपी 2017 का असेम्बली इलेक्शन डेवलपमेंट के मुद्दे पर लड़ेगी।
बीते साल पत्थर पहुंचे थे अयोध्या
- बीते साल दिसंबर महीने में राजस्थान से पत्थर (शिलाएं) अयोध्या पहुंचे थे।
- इन पत्थरों की राम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपालदास ने पूजा की थी।
- उस समय पत्थरों को बाहर से मंगाए जाने को लेकर प्रशासन से इजाजत नहीं ली गई थी।
नृत्य गोपालदास ने कहा था- मंदिर निर्माण का समय आ गया
- शिलाओं की पूजा के बाद महंत नृत्य गोपालदास ने कहा था कि भगवान की कृपा से राम मंदिर निर्माण का वक्त आ गया है।
- जिन शिलाओं की पूजा हो चुकी है, उनसे मंदिर निर्माण होगा। केंद्र में मोदी की सरकार है, जल्दी ही राम मंदिर निर्माण शुरू होगा।
- उन्होंने ये भी कहा था कि अब तक राम मंदिर के लिए कानून बनाने के वास्ते राज्यसभा में बहुमत का इंतजार था। अब ऐसा नहीं है।
- राम जन्मभूमि पर मंदिर बनाने की देशभर में भव्य तैयारी चल रही है और जल्दी ही मंदिर बनाया जाएगा।

   

कई टुकड़ों में फट गया था 'लेडी ऑफ द हार्ले' का लिवर, शरीर के अंदर फैला ब्लड

विदिशा/भोपाल.हार्ले डेविडसन बाइक से भारत भ्रमण पर निकली जयपुर की रहने वाली लेडी बाइकर वीनू पालीवाल की मौत एक्सीडेंट के बाद लिवर फटने से हुई थी। क्या है मामला...
-सोमवार शाम को मध्य प्रदेश के ग्यारसपुर से 11 किमी पहले हाईवे के एक मोड़ पर उनकी बाइक अनियंत्रित होकर फिसल गई थी।
-इससे उनके लीवर पर गहरी चोट आई और लीवर के कई टुकड़े हो गए। नतीजतन अंदरूनी हिस्से में खून फैल गया।
-मंगलवार सुबह जिला हॉस्पिटल में 4 डाक्टरों की टीम ने वीनू का पोस्टमार्टम किया।
-45 मिनट तक चले पोस्टमार्टम के बाद डाॅक्टरों ने ब्लंट इंज्युरी यानी ऊपरी चोट और लीवर रप्चर यानी लीवर का फटना मौत का कारण बताया है।
-हॉस्पिटल में पोस्टमार्टम होने तक वीनू के कोई रिश्तेदार नहीं पहुंचे थे।
-उनके दोस्तों ने ही पीएम के बाद शव को भोपाल से एक एसी एंबुलेंस हायर कर जयपुर तक पहुंचाने का इंतजाम किया।
रेस्टोरेंट का था कारोबार
जयपुर से आए वीनू के दोस्त शांतनु सिंह ने बताया कि जयपुर में वीनू का रेस्टोरेंट का कारोबार है। वह एक महिला ग्रुप भी चलाती थी। उसमें महिलाओं को जागरूक किया जाता था। पिता केएल पालीवाल जयपुर में ही रहते हैं।
इंजेक्शन लगने के 5 मिनट बाद हुई बेसुध
-दुर्घटना के बाद वीनू ने उनके दोस्त दीपेश से ब्लू टूथ के जरिए काॅल करके हादसे की सूचना दी थी।
-इसके बाद उसे तत्काल ग्यारसपुर हॉस्पिटल पहुंचाया गया।
-वहां ड्यूटी डॉक्टर ने इंजेक्शन लगाया। उस समय तक वह ठीक से बात कर रही थी।
-इंजेक्शन लगाने के 5 मिनट बाद वह बार-बार बेसुध होने लगी। उसकी तबियत बिगड़ने लगी थी। इसके बाद विदिशा लेकर आए।
-यहां पहले प्राइवेट हॉस्पिटल में दिखाया लेकिन इलाज नहीं मिलने पर सरकारी हॉस्पिटल लेकर आए। यहां डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया।
9 हजार किमी का कर चुकी थी सफर...
-वीनू के साथी बाइक राइडर दीपेश तंवर ने बताया कि दोनों साथी 18 दिन पहले जयपुर से इंडिया टूर पर निकले थे।
-जयपुर में ही 13 अप्रैल बुधवार को जाकर यात्रा समाप्त होना थी।
-उससे पहले सोमवार को ही वीनू की बाइक अनियंत्रित होकर फिसल गई इससे उसका सफर बीच में ही समाप्त हो गया।
-उसकी अंतिम यात्रा विदिशा से जयपुर के लिए शुरू हुई। दोनों साथी अब तक 9 हजार किमी का सफर पूरा कर चुके थे।
नहीं आए वीना के कोई रिश्तेदार
-मंगलवार को वीना के पोस्टमार्टम के समय तक उसके रिश्तेदार नहीं पहुंचे थे।
-जयपुर से विदिशा पहुंचे वीना के दोस्त शांतनु सिंह, विकास सिंह, इंदौर से आए देवेंद्र चुघ, भोपाल से आए इसविंदर सिंह और विदिशा के अश्विन सिंह आदि ने वीनू के साथी राइडर दीपेश तंवर को सांत्वना देते हुए वीनू का पीएम करवाया।
-उसके बाद उसके शव को जयपुर के लिए रवाना किया। सभी दोस्तों ने दीपेश तंवर को भी ढांढस बंधाया।
45 मिनट तक चला पोस्टमार्टम
-सीएमएचओ डा. बीएल आर्य और सिविल सर्जन डा. शेखर जालवणकर ने वीनू पालीवाल के पोस्टमार्टम के लिए डा. आरके वर्मा, डा. आरके साहू, डा. नेहा जैन और डा. आरएल सिंह की टीम बनाई थी।
-इस टीम ने मंगलवार सुबह 8.30 से 9.15 बजे तक पोस्टमार्टम किया। कोतवाली थाना टीआई राजेश तिवारी ने भी पीएम की वीडियोग्राफी करवाई है।
-शॉर्ट पीएम रिपोर्ट में डाॅक्टरों ने मौत का कारण ब्लंट इंज्युरी और लीवर रप्चर होना बताया है। विस्तृत जांच के लिए बिसरा भिजवाया जा रहा है।
-इसकी रिपोर्ट 15 दिन बाद आएगी।
कोहनी में लगी थी चोट
-कोतवाली थाने की जांच अधिकारी एसआई रचना मिश्रा ने बताया कि दुर्घटना के कारण बाइक राइडर वीनू पालीवाल के दाहिने हाथ की कोहनी में गंभीर चोट लगी थी।
-एक पैर में भी मामूली खरोच दिखाई दे रही थी। उनकी बाइक और हेलमेट को कोई नुकसान नहीं हुआ था।

   

गुड़गांव हुआ गुरुग्राम, सोशल मीडिया पर ऐसे उड़ाया जा रहा है मजाक

पानीपत।हरियाणा की बीजेपी सरकार ने गुड़गांव का नाम बदलकर गुरुग्राम कर दिया है। इसके बाद से सोशल मीडिया पर कमेंट की बाढ़ आ गई है। लोग हरियाणा सरकार के इस कदम पर लगातार मजाकिया कमेंट कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर लोगों ने सरकार को सलाह दी है कि वह नाम बदलने के बजाय कामकाज करने पर ध्यान दे। इस तरह के हैं कमेंट.....
- वन लाइनर्स | ruri10
गुड़गांव तो गुरुग्राम हो चुका, अब महाभारत के लिए दिल्ली का इंद्रप्रस्थ होना बाकी है.
- धाकड़ ताऊ | @DhakkadTau
अगर कुछ कसर रह जाए तो करनाल को कर्ण नगर, पानीपत को पानप्रस्थ और सोनीपत को सोनप्रस्थ कर दीजिए. शायद आपकी लोकप्रियता कुछ बढ़े.
- पीएचडी | @Atheist_Krishna
हरियाणा चुनाव में जब मोदी जी ने कहा था कि हम सब बदल देंगे तो किसी को पता नहीं था कि वो गुड़गांव का नाम बदल कर गुरुग्राम करने की बात कर रहे हैं.
- अक्खड़ इलाहाबादी | ‏@hindiplz
गुरुग्राम में घुसते समय टोल टैक्स नहीं, गुरु दक्षिणा देनी होगी.

   

aaj ki khaber

Epaper

राष्ट्रीय संस्करण

हरियाणा प्लस

सिरसा संस्करण

 


YOU ARE VISITOR NO.1802731

Site Designed by Manmohit Grover