You are here:

लश्कर, जैश और हाफिज सईद के खिलाफ सख्त कार्रवाई करेंगे : भारत-EU

नई दिल्ली.भारत और यूरोपियन यूनियन (EU) ने लश्करे-तैयबा, जैश-ए-मोहम्मद जैसे अंतरराष्ट्रीय आतंकी संगठनों और हाफिज सईद जैसे आतंकियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने पर रजामंदी जताई है। इस संबंध में दोनों पक्षों ने शुक्रवार को एक साझा बयान जारी किया जिसमें यह बात कही गई है। इसमें आतंकवाद से निपटने के तरीकों और समुद्री सुरक्षा में सहयोग बढ़ाने पर जोर दिया गया है। बता दें कि भारत और ईयू 2004 से स्ट्रैटजिक पार्टनर हैं। पिछले साल मार्च में भारतीय पीएम नरेंद्र मोदी के दौरे के वक्त ब्रसेल्स में 13वीं भारत-ईयू समिट हुई थी। फ्री ट्रेड पैक्ट पर नहीं मिली कामयाबी...
- न्यूज एजेंसी के मुताबिक 14वीं भारत-EU समिट में रणनीतिक संबंधों को अगले लेवल तक ले जाने पर भी सहमति बनी है। यूरोपियन काउंसिल के प्रेसिडेंट डोनाल्ड फ्रांसिसजेक टस्क और यूरोपियन कमीशन के प्रेसिडेंट जीन-क्लाउडे जंकर के साथ डेलीगेशन लेवल की बातचीत के बाद नरेंद्र मोदी ने एक ज्वाइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, "भारत और ईयू आतंकवाद से मिलकर लड़ने और इसके लिए आपसी सहयोग बढ़ाने पर सहमत हुए हैं।"
दोनों पक्षों में हुए 3 करार
- समिट में दोनों पक्षों ने बाइलैट्रल, रीजनल और इंटरनेशनल मुद्दों के अलावा रोहिंग्या संकट और कोरियाई पेनिनसुला में बदलते हालात पर बातचीत की। समिट के बाद दोनों पक्षों के बीच तीन करार भी हुए। इनमें से एक इंटरनेशनल सोलर अलायंस बनाना भी शामिल है।
साझा बयान में दाऊद, लखवी का भी जिक्र
- ज्वाइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस में टस्क ने कहा, "हम हिंसक उग्रवाद और बढ़ती ऑनलाइन कट्टरता से मिलकर लड़ने पर रजामंद हैं। विदेशी आतंकियों, टेरर फाइनेंसिंग और आर्म्स सप्लाई के खतरे से भी हम प्रभावी तरीके से निपटेंगे।"
- साझा बयान में अंतरराष्ट्रीय आतंकी संगठनों और अंतरराष्ट्रीय आतंकियों से मुकाबले का जिक्र किया गया है। इनमें हाफिज सईद के अलावा जकीउर रहमान लखवी और दाऊद इब्राहिम का नाम भी शामिल है। इनके अलावा लश्कर, जैश के साथ ही ISIS और इसके सहयोगी संगठनों का जिक्र है।
- दोनों पक्षों ने पठानकोट, उड़ी, नागरोटा, अनंतनाग के साथ ही पेरिस, ब्रूसेल्स, नीस, लंदन, मैनचेस्टर और बार्सिलोना में हुए आतंकी हमलों की निंदा भी की। ईयू और भारत ने 2008 में हुए मुंबई हमलों को याद किया और साजिशकर्ताओं को इंसाफ के कटघरे में लाने पर सहमति जताई।
फ्री ट्रेड पैक्ट पर नहीं मिली कामयाबी
- हालांकि यूरोपियन लीडर्स के साथ मोदी की मीटिंग में फ्री ट्रेड पैक्ट (मुक्त व्यापार समझौता) पर कोई बड़ी कामयाबी हासिल नहीं हुई।
- जंकर ने कहा, ''ये भारत और यूरोपियन यूनियन के बीच फ्री ट्रेड का समय है। जैसे ही हालात बेहतर होंगे, हम इस पर दोबारा बातचीत शुरू करेंगे। ईयू भारत का बड़ा इन्वेस्टर और ट्रेड पार्टनर रहा है। 28 देशों के समूह से ब्रिटेन भले ही बाहर हो गया हो, लेकिन भारत से हमारे रिश्ते पहले की तरह कायम हैं। आने वाले दिनों में दोनों पक्षों के चीफ नेगोसिएटर्स साथ मिलकर कोई रास्ता निकालेंगे।''
- ''ईयू इंडस्ट्री में भारतीय कंपनियों का बैक ऑफिस और आईटी सपोर्ट में बड़ा योगदान रहा है। इनमें कई तरह की सर्विस डाटा एक्सचेंज से जुड़ी है। डाटा प्रोटेक्शन आज के दौर की बड़ी जरूरत है।''
- बता दें कि 28 देशों की यूरोपियन यूनियन भारत के लिए बड़ा ट्रेड पार्टनर रहा है। 2016 में गुड्स ट्रेड 88 बिलियन डॉलर रहा। इसके साथ ही ईयू इंडियन एक्सपर्ट्स और टेक्नोलॉजी के इन्वेस्टमेंट के लिहाज से काफी अहम रहा है।

   

स्कूल में गार्ड ने बच्चों पर शराब छिड़क जिंदा जलाया, सामने आईं PHOTOS

इंटरनेशनल डेस्क. ब्राजील के जैनउबा शहर से शुक्रवार को एक दिल दहलाने वाली घटना सामने आई। यहां पर एक सिक्युरिटी गार्ड ने नर्सरी में पढ़ने वाले 6 बच्चों को शराब छिड़ककर जिंदा जला दिया। इस घटना में 4 बच्चों और एक टीचर की तुरंत ही मौत हो गई, वहीं गंभीर रूप से घायल दो और बच्चों ने हॉस्पिटल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। स्कूल में लगी आग इतनी तेज थी कि घटना को अंजाम देने वाले गार्ड की भी मौके पर ही मौत हो गई। साथ ही साथ आग की चपेट में आने से करीब 25 बच्चे और टीचर्स घायल हो गए, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मानसिक रूप से बीमार था गार्ड...
- पुलिस ने घटना को अंजाम देने वाले गार्ड की पहचान 50 साल के दामियाओ सांतोस के तौर पर की। सांतोस स्कूल में करीब पिछले 8 सालों से नाइट ड्यूटी कर रहा था।
- पुलिस सुप्रिटेन्डेंट रेनाटो न्यून्स के मुताबिक सांतोस मानसिक रूप से बीमार था। घटना का मकसद पता करने के लिए पुलिस उसके घर भी पहुंची जहां से शराब के कई जग बरामद किए गए।
स्कूल में थे 80 बच्चे
- मीडिया रिपोर्ट्स से सामने आया है कि घटना के वक्त स्कूल में करीब 80 बच्चे मौजूद थे। आग लगने की खबर मिलते ही बच्चों के पेरेंट्स भागते हुए स्कूल पहुंचे, जहां पहले ही एक पूरा कमरा जलकर खाक हो चुका था। ब्राजील की एक न्यूज साइट जीआई के मुताबिक, मारे गए बच्चों की उम्र 4 से 5 साल के करीब थी।
मेयर ने की शोक की घोषणा
- जनउबा के मेयर कार्लोस मेंडेस के मुताबिक ये घटना और बड़ी हो सकती थी, अगर क्लास में लगी आग हॉल के पास मौजूद बेबीज रूम तक पहुंच जाती।
- घटना में मारे गए लोगों के लिए मेयर कार्लोस ने पूरे शहर में 7 दिन के शोक की घोषणा भी की। ब्राजील के प्रेसिडेंट मिशेल टेमर ने भी ट्विटर के माध्यम से इस घटना पर दुख जताया।

   

एस्कॉर्ट सर्विस के ऐड से मिला लापता बेटी का पता, इस हाल में लौटी घर

अटलांटा.अमेरिका के जॉर्जिया प्रांत की रहने वाली एक महिला द्वारा लापता बेटी के तलाश की दर्द भरी कहानी सामने आई है। महिला की 13 साल की लड़की ह्यूमन ट्रैफिकिंग का शिकार हो गई थी, जिसके बाद उसे एस्कॉर्ट सर्विस के धंधे में उतार दिया गया। महिला को इस बात का पता तब चला, जब उसने सेक्स सर्विस के लिए बेटी का ऑनलाइन ऐड देखा। इस लड़की पर आई एम जेन डो नाम की डॉक्युमेंट्री में भी बनी है, जो इस साल रिलीज हुई है। ऑनलाइन ऐड पर ऐसे पहुंचीं प्राइड...
- ये कहानी अटलांटा की रहने वाली कुबिकी प्राइड और उनकी बेटी एमए की है। एमए ह्यूमन ट्रैफिकर के जाल में फंसकर एस्कॉर्ट सर्विस के धंधे में फंस गई।
- 13 साल की एमए अपनी स्कूल पार्टी में गई थी और वहीं, महिला ट्रैफिकर की चंगुल में फंसी। उसे लगा कि महिला उसे घर ड्रॉप करेगी, लेकिन उसने एमए को सेक्स सर्विस के धंधे में पहुंचा दिया।
- बेटी के लापता होने के करीब 270 दिनों बाद प्राइड ने उसकी ऑनलाइन तलाश शुरू की। वो बैकपेज डॉटकॉम वेबसाइट स्क्रॉल कर रही थीं, तभी एस्कॉर्ट सेक्शन में उन्हें अपनी बेटी का ऐड दिखा।
- प्राइड ने बताया, वेबसाइट पर ये ऊपर से तीसरा लिंक था। उसका बहुत सारे स्टार्स और हार्ट शेप के स्टीकर्स थे और उस पर लिखा था कि यंग एंड न्यू।
- उन्होंने बताया कि ऐड पर आ रहे स्टार्स और हार्ट ने उनका ध्यान खींचा। उन्होंने जब इस ऐड पर क्लिक किया तो वो अपनी बेटी की आपत्तिजनक फोटोज देखकर दंग रह गईं।
- प्राइड ने बताया कि उनकी बेटी एमए ने सिर्फ अंडरवियर पहन रखा था और पोज दे रही थी। इसके बाद उन्होंने ऐड में दिए कॉन्टैक्ट पर बात की और सर्विस खरीदने की बात कही।
ड्रग्स एडिक्ट हुई बेटी, किया गया अब्यूज
- प्राइड सर्विस लेने के बहाने वो बेटी एमए को घर वापस ले आईं। तब उन्हें पता चला कि एमए ड्रग्स एडिक्ट हो चुकी और उसे बुरी तरह अब्यूज भी किया गया है।
- उन्होंने बताया कि उनकी बेटी को पीटा गया, छुरी मारी गई और जलाया भी गया। इतना ही नहीं, उसके सिर के सारे बाल तक शेव कर दिए गए।
- इसके बाद ड्रग्स की लत के चलते एमए ने दो बार घर से भागने की भी कोशिश की, लेकिन दोनों बार अपनी मां के पास लौट आई।
वेबसाइट पर नहीं कसा शिकंजा
- एमए की ट्रैफिकिंग करने वाली आरोपी महिला को अरेस्ट कर लिया गया और 2010 में उसे पांच साल की जेल हो गई। हालांकि, लड़की के ऑनलाइन ऐड और फोटोज नहीं हटाए गए।
- 2011 में प्राइड ने बैकपेज डॉटकॉम पर केस किया था और कहा था कि वेबसाइट चाइल्ड सेक्स ट्रैफिकिंग को बढ़ावा देती है, लेकिन उनका केस 230 कम्युनिकेशंस डिसेंसी एक्ट के तहत खारिज कर दिया गया।
- बता दें, बैकपेज अमेरिका की सबसे बड़ी ऑनलाइन क्लासीफाइड साइट है और इस पर देश के 80 फीसदी से ज्यादा ह्यूमन ट्रैफिंकिंग के एडवरटाइजमेंट होते हैं।

   

अमेरिका में अब तूफान नेट का कहर, 22 की मौत, 7000 लोग शेल्टर्स रह रहे

वॉशिंगटन.सेंट्रल अमेरिकी देशों कोस्टा रिका, निकरागुआ और होंडुरास में तूफान नेट ने तबाही मचाई है। तूफान के चलते यहां 22 लोगों की मौत हो गई। तूफान के इस हफ्ते के अंत तक अमेरिका में दस्तक देने की संभावना है। राष्ट्रीय तूफान केंद्र (एनएचसी) ने इसकी जानकारी दी।
अधिकारियों ने बताया कि तूफान के चलते कोस्टारिका में करीब आठ लोगों की मौत हो चुकी है, वहीं निकारागुआ में 11 लोगों की मौत हो चुकी है। होंडुरास में तीन लोगों की मौत हुई और कई लोगों के लापता होने की खबर है। कोस्टा रिका में करीब 400,000 लोग पीने के पानी की कमी से जूझ रहे हैं और करीब 7000 लोग शेल्टर्स में रह रहे हैं।
सीएनएन की रिपोर्ट के मुताबिक, राष्ट्रीय तूफान केंद्र ने अपने पूर्वानुमान में शुक्रवार को मेक्सिको के युकातान प्रायद्वीप पर तूफान के आने की और 20 सेंटीमीटर तक बारिश होने की संभावना जताई है। एक एनएचसी सलाहकार ने कहा कि लुइसियाना, मिसिसिप्पी और अलबामा के कोस्टल इलाकों के लिए अलर्ट जारी किया गया है। वहां तूफान के कैटेगरी-1 के तौर पर शनिवार देर शाम या रविवार तड़के पहुंचने की संभावना है।
वहीं, तूफान के दस्तक देने की संभवाना के चलते गुरुवार शाम को न्यू आर्लियंस के मेयर मिच लैंड्रियू ने राज्य में आपात स्थिति की घोषणा कर दी है और लोकल लोगों को पूरे हफ्ते तक वहीं रहने की सलाह दी है। तूफान के फ्लोरिडा पैनहेंडल के एक छोटे से हिस्से में दस्तक देने की भी संभावना है।
सुरक्षा और पर्यावरण निदेशालय के अनुसार, मेक्सिको की खाड़ी में काम कर रहीं तेल और गैस कंपनियों के संचालक वहां से अपने कर्मचारियों को हटा रहे हैं, जहां से होकर तूफान गुजर सकता है।

   
  • «
  •  Start 
  •  Prev 
  •  1 
  •  2 
  •  3 
  •  4 
  •  5 
  •  6 
  •  7 
  •  8 
  •  9 
  •  10 
  •  Next 
  •  End 
  • »

aaj ki khaber

Epaper

राष्ट्रीय संस्करण

हरियाणा प्लस

सिरसा संस्करण

 


YOU ARE VISITOR NO.1801013

Site Designed by Manmohit Grover