You are here:

काबुल में क्रिकेट स्टेडियम के गेट पर सुसाइड बम ब्लास्ट, 2 लोगों की मौत

काबुल.अफगानिस्तान के काबुल इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में बुधवार को सुसाइड बम ब्लास्ट हुआ। ये ब्लास्ट शागीजा क्रिकेट लीग मैच के दौरान हुआ, जिसमें दो लोगों की मौत हो गई है। टोलो न्यूज ने सुरक्षा सूत्रों के हवाले से इस ब्लास्ट की पुष्टि की है। हालांकि, इसमें किसी खिलाड़ी को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है। ब्लास्ट के बाद रोकना पड़ा मैच...
- टोलो न्यूज एजेंसी के मुताबिक, ब्लास्ट दोपहर 3.45 बजे स्टेडियम के गेट पर मौजूद चेक पोस्ट पर हुआ।
- इसमें दो लोगों की मौत हुई है, जिसमें एक सिक्युरिटी फोर्स का जवान है और दूसरा आम नागरिक है।
- क्रिकेट बोर्ड के अफसरों ने बताया कि ब्लास्ट के बाद मैच रोक दिया गया, लेकिन कुछ समय बाद फिर खेल शुरू हुआ।
- क्रिकेट स्टेडियम के अफसरों के मुताबिक, स्टेडियम में मौके पर मौजूद सभी खिलाड़ी सुरक्षित हैं।
- बता दें, सोमवार से यहां शागीजा क्रिकेट लीग सेशन शुरू हुआ है और ये 22 सितंबर तक चलेगा।

   

ये लड़की थी 'ब्लू व्हेल गेम' की एडमिन, घर से मिली ये चीजें

मॉस्को.रशियन पुलिस ने एक 17 साल की लड़की को अरेस्ट किया है। पुलिस के मुताबिक लड़की ब्लू व्हेल ऑनलाइन गेम की मास्टरमाइंड है, ये अपनी धमकियों और डर दिखाकर लोगों को अपनी जान लेने पर मजबूर कर देती थी। रूसी पुलिस द्वारा एक फुटेज जारी किया गया है, जिसमें एक रेड के दौरान आरोपी लड़की को उसके घर से गिरफ्तार करते हुए देखा जा सकता है। आरोपी लड़की मनौविज्ञान की छात्रा है और उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया है। अदालत में हुई पेशी के बाद उसे तीन साल के लिए जेल भेजा गया है। लड़की के कमरे से चौंकाने वाली चीजें मिलीं...
- न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक रूस की इंटीरियर मिनिस्ट्री के कर्नल इरिना वॉक ने कहा, "आरोपी लड़की गेम बीच में छोड़ने वालों को जान से मारने की धमकी और उनके परिवार की हत्या करने जैसी धमकियां देकर मासूमों को खुदकुशी करने के लिए इंस्पायर करती थी।"
- पुलिस ने जब लड़की के कमरे की तलाशी ली तो चौंक गई। उसके कमरे से हॉरर किताबें, डरावनी पेटिंग, सुसाइड के लिए इंस्पायर करने वाले फोटो, डीवीडी और विवादित नॉवेल मिले हैं।
- पुलिस ने छापेमारी के दौरान आरोपी लड़की के कमरे की फुटेज भी जारी की है। लड़की के कमरे से रशियन साइकॉलजी स्टूडेंट फिलिप ब्यूडेइकिन के फोटो और किताबें भी मिलीं।
- बता दें कि फिलिप ब्यूडेइकिन ने ही यह गेम डिजाइन किया था। फिलिप के गेम की वजह से रूस में ही करीब 16 लड़कियां जान दे चुकी है। इसके चलते फिलिप को 3 साल की जेल की सजा सुनाई गई है। फिलिप के जेल जाने के बाद भी कई बच्चे इस गेम के शिकार हो रहे थे, जिसकी एडमिन यह 17 साल की लड़की थी।
50 दिनों के गेम में बच्चे हो जाते हैं डिप्रेस
- 21 साल का फिलिप बुदेकिन लड़कियों से ब्लू व्हेल नाम के सोशल मीडिया क्रेज का हिस्सा बनने के लिए टीनेजर्स को फंसाता था।
- इसके बाद गेम में शामिल होने वाले टीनेजर्स का ऐसे ब्रेनवॉश कर दिया जाता है कि गेम के आखिर में वो सुसाइड करने को भी राजी हो जाता था।
- 50 दिनों के गेम में उन्हें हॉरर मूवी देखनी होती है। दिन में अजीबोगरीब वक्त पर सोकर उठना होता है और खुद को नुकसान पहुंचाना होता है।
- इस गेम के आखिरी स्टेज से पहुंचने वाली एक लड़की ने बताया कि इस दौरान उसे ज्यादातर सुसाइड के भयानक वीडियो देखने को मिले।
- इस दौरान जब टीनेजर्स पूरी तरह से उलझन में फंसकर डिप्रेशन में चले जाते हैं, तब उन्हें आखिरी दिन सुसाइड करने को कहा जाता है।
- फिलिप ने इसी तरह रूस की करीब 16 स्कूल गर्ल्स को इस गेम का हिस्सा बनाया और जान देने पर मजबूर किया।
आरोपी बोला- ''समाज की गंदगी साफ कर रहा हूं''
- फिलिप इसी मामले में नवंबर से पेंडिग ट्रायल पर सेंट पीटर्सबर्ग की क्रेस्टी जेल में है और उसने अपना गुनाह भी कबूल लिया है।
- फिलिप अपने शिकार को बायोलॉजिक वेस्ट बताया और कहा कि इनसे सिर्फ समाज को नुकसान होगा। इन्हें सोसाइटी से साफ करना जरूरी है।
- फिलिप ने मरने वाली लड़कियों को लेकर कहा कि उसे लगता है कि सभी यंग गर्ल्स ने खुशी-खुशी अपनी जान दी।
- आरोपी के मुताबिक, अभी ऐसी 28 लड़कियां और भी हैं, जो अपनी जान देने के लिए तैयार बैठी हैं।
क्या है ब्लू व्हेल गेम
- ‘ब्लू व्हेल गेम’ रूस के फिलिप बुडेकिन नाम के शख्स ने 2013 में बनाया था।
- इस गेम में साइन करने के बाद 50 दिनों के अंदर टास्क पूरा करने की चुनौती मिलती थी।
- इसमें खुद को नुकसान पहुंचाना, अकेले में डरावनी फिल्में देखना और व्हेल का चित्र अपने हाथ पर गोदना जैसी चुनौतियां शामिल हैं।
- हर टास्क पूरा होने पर प्लेयर को अपने हाथ पर एक कट लगाने के लिए कहा जाता है। आखिरी में जो इमेज उभरती है, वो व्हेल मछली की तरह होती है
- इस गेम का सबसे खौफनाक और आखिरी टास्क 50वें दिन दिया जाता है, जिसमें खुद को जान से मारने की चुनौती मिलती है।

   

अब पाकिस्तान में बारिश का कहर, शहर का हो गया ऐसा हाल

कराची. पड़ोसी देश पाकिस्‍तान के कराची शहर में भी बारिश ने आफत ला दी है। मूसलाधार बारिश के चलते अधिकतर हिस्‍से डूब गए हैं। पाकिस्तानी अखबार 'डॉन' के मुताबिक, अब तक 23 लोगों की मौत हो चुकी हैं, जिनमें 7 बच्चे भी शामिल हैं और दर्जनों लोग लापता हैं। ज्‍यादातर लोगों की मौत करंट लगने से हुई है। भारी बारिश से सड़कों पर भी बाढ़ जैसे हालात हो गए हैं। नॉर्थ निजामाबाद, नॉर्थ कराची, ओरंगी, मलिर जैसे शहर के अधिकतर इलाके जलमग्‍न हो गए हैं। सबसे ज्‍यादा बारिश नॉर्थ कराची में रिकॉर्ड की गई है। रेस्क्यू टीम लोगों की मदद के लिए जुटी हुई है।

   

अमेरिका की शर्त, आतंकियों पर कार्रवाई के बाद ही पाकिस्तान को मिलेगी मदद

वॉशिंगटन.आतंकवाद पर पाकिस्तान को राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की कड़ी चेतावनी के बाद अमेरिका ने उसे 1630 करोड़ रुपए 25.5 करोड़ डॉलर की सैन्य सहायता पर भी शर्त लगा दी है। वह यह मदद तभी इस्तेमाल कर सकेगा जब वह अपनी जमीन पर आतंकी संगठनों के खिलाफ असरदार कार्रवाई करेगा। पिछले हफ्ते ट्रम्प ने अफगानिस्तान को लेकर नई रणनीति की घोषणा के वक्त आतंकवाद को पनाह देने का आरोप लगाते हुए पाकिस्तान पर हमला बोला था।
उन्होंने पाकिस्तान को चेतावनी दी थी कि आतंकियों को पालने-पोसने के बदले उसे बहुत कुछ खोना होगा। ‘न्यू यॉर्क टाइम्स' के मुताबिक ट्रम्प प्रशासन ने बुधवार को कांग्रेस को जानकारी दी कि पाकिस्तान को सैन्य सहायता के रूप में 25.5 करोड़ डॉलर वह एक एस्क्रो खाते में रख रहा है, जिसका इस्लामाबाद तभी इस्तेमाल कर पाएगा जब वह अपने यहां मौजूद आतंकी नेटवर्कों पर कार्रवाई करेगा। उसे उन आतंकी समूहों पर भी कार्रवाई करनी होगी जो पड़ोसी अफगानिस्तान में हमले कर रहे हैं। एस्क्रो खाते से पैसा तभी इस्तेमाल किया जा सकेगा जब तय शर्तों को पूरा किया जाएगा।
सैन्य सहायता पर शर्त लगाने की बात ऐसे समय में सामने आई है, जब दोनों देशों के बीच संबंध तनावपूर्ण बने हुए हैं। पाकिस्तान ने वरिष्ठ अमेरिकी अधिकारियों के साथ तीन उच्च स्तर की बैठकें रद्द कर दीं हैं। इसमें पाकिस्तान के विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ का अमेरिकी दौरा भी शामिल है। आसिफ इस दौरे पर अमेरिकी विदेश मंत्री रैक्स टिलरसन से मुलाकात करने वाले थे। पाकिस्तान की असेंबली ने प्रस्ताव पारित कर आरोप लगाया कि अमेरिकी राष्ट्रपति और उनके वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा पाकिस्तान पर दिए गए हाल के बयान धमकी भरे हैं।

   

aaj ki khaber

Epaper

राष्ट्रीय संस्करण

हरियाणा प्लस

सिरसा संस्करण

 


YOU ARE VISITOR NO.1853239

Site Designed by Manmohit Grover