You are here:

पूछताछ में हनीप्रीत को हुआ सिरदर्द, 9 घंटे में 4 अफसरों ने पूछे 60 से ज्यादा सवाल

पंचकूला. पिछले 24 घंटों में पंचकूला पुलिस के चार अफसरों ने बाबा राम रहीम की मुंहबोली बेटी हनीप्रीत इंसां से 9 घंटों तक पूछताछ की। चार पुलिस अफसरों ने दिन में पांच बार अलग- अलग पूछताछ की। 60 से ज्यादा सवाल पूछे गए, लेकिन किसी भी सवाल का सही जवाब नहीं मिला। हनीप्रीत ने सिरदर्द का बहाना करके चाय और दवा की डिमांड की। पुलिस कमिश्नर ने बताया कि वह सवालों के जवाब में उलझा रही है। डॉक्टरों की टीम ने उसका मेडिकल किया। बीपी और ईसीजी दोनों नॉर्मल हैं।
पुलिस ने बताया कि सवालों के जवाब में उलझा रही है हनीप्रीत इंसां
- पुलिस कमिश्नर ने बताया कि वह सवालों के जवाब में उलझा रही है। डॉक्टरों की टीम ने उसका मेडिकल किया। बीपी और ईसीजी दोनों नॉर्मल हैं। वहीं, दिल्ली तक हनीप्रीत को पहुंचाने वाले शख्स ने पुलिस को बताया कि उसे हनीप्रीत के मोबाइल के बारे में कुछ पता नहीं है वह सुखदीप कौर के फोन पर आया था।
- बता दें कि पंचकूला कोर्ट ने राम रहीम को रेप केस में 25 अगस्त को दोषी करार दिया था। इसके बाद हनीप्रीत बाबा के साथ पुलिस के हेलिकॉप्टर से रोहतक की सुनारिया जेल पहुंची थी। उसने बाबा के साथ अंदर जाने की जिद की थी, लेकिन पुलिस ने उसे वहां से बाहर भेज दिया था। इसके बाद से हनीप्रीत गायब थी। 39 दिन बाद उसे 3 अक्टूबर को अरेस्ट किया गया था। उसपर दंगा भड़काने और साजिश रचने का आरोप है।
हनीप्रीत इंसां ने पूछताछ में कहा- हां, मेरा प्लान जरूर था, लेकिन...(चुप हो गई)
पुलिस:डेरे के लोगों को पंचकूला बुलाया गया, कितने लोगों को बुलाने का टारगेट था?
हनीप्रीत:हमने तो नीचे वालों को बताया था, यहां केस से बरी होने के बाद सत्संग करने का विचार था। यह प्लान मेरा जरूर था, लेकिन...(चुप हो गई)
पुलिस:कितने लोगों को खुद बताया कि पंचकूला में ये प्लानिंग है?
हनीप्रीत:(पहले चुप रही, फिर बोली) लोगों को तो यहां आना ही था।
पुलिस:कौन से नंबरों का इस्तेमाल किया?
हनीप्रीत:मेरे पास जो नंबर पहले से मौजूद थे वही थे। उसके बाद मेरा फोन खराब हो गया और एक नंबर बंद हो गया।
पुलिस: आदित्य से आखिरी बार कब मिली?
हनीप्रीत : पता नहीं कब मिली थी, कुछ याद नहीं है।
दूसरे सवालों पर जवाब...
सवाल: तुम्हारे दूसरे मोबाइल कहां हैं?
- कौन से दूसरे... वो तो मैंने गिरा दिए, कहां ये तो याद नहीं।
सवाल: तुम्हारे साथ कौन-कौन होते थे दूसरी गाड़ी में?
-कौन-कौन होते थे ये तो पता नहीं, नाम याद नहीं हैं।
सवाल: कौन से मोबाइल नंबरों का इस्तेमाल किया था?
- मेरे पास जो नंबर पहले से मौजूद थे वही थे। उसके बाद मेरा फोन खराब हो गया और एक नंबर बंद हो गया।
सवाल: आदित्य इंसां से आखिरी बार कब मुलाकात हुई?
-तीन-चार मिनट तक चुप हो गई। फिर बोली- पता नहीं कब मिली थी, कुछ याद नहीं है।
आमने-सामने: गवाह राकेश और आरोपी हनीप्रीत इंसां
- हनीप्रीत पुलिस के सवालों का जवाब नहीं दे रही है। पुलिस ने शुक्रवार को दूसरा तरीका अपनाया- उसके सामने ही दो गवाहों सुखदीप और राकेश को बिठाकर सवाल-जवाब किए। हालांकि, इसका भी कोई खास फायदा नहीं हुआ।
पंचकूला दंगा भड़काने की मीटिंग पर सवाल
राकेश- हां, 17 अगस्त को हुई मीटिंग में हनीप्रीत मौजूद थी। समर्थकों को पंचकूला पहुंचने के लिए इसने ही कहा था। लोग पहले डेरा चीफ के काफिले के साथ 28 अगस्त को पंचकूला जाने वाले थे। तब हनीप्रीत ने कहा था कि लेट जाएंगे, तो कैसे मैनेज होगा। इसलिए बड़ी संख्या में समर्थक पहले ही पहुंच गए।
अब तक कहां ले गई पुलिस?
- गुरुवार सुबह पुलिस हनीप्रीत और उसकी साथी सुखदीप को पंचकूला के सेक्टर-23 थाने से निकाल कर सेक्टर-20 ले गई। फिर उन्हें बस से बठिंडा ले जाया गया। पुलिस का कहना है कि फरारी के वक्त हनीप्रीत ने सबसे ज्यादा वक्त बठिंडा के आसपास बिताया था।
- यहां वह सुखदीप कौर के घर पर ही रुकी थी। बता दें कि सुखदीप कौर वही है जिसे हनीप्रीत के साथ मंगलवार को अरेस्ट किया गया था। पुलिस अब उसे सिरसा भी ले जा सकती है।
हनीप्रीत इंसां कितने दिन की पुलिस कस्टडी में है?
-हनीप्रीत को पंचकूला कोर्ट में बुधवार को में पेश किया गया था। सुनवाई के बाद कोर्ट ने उसको 6 दिन की पुलिस कस्टडी में भेज दिया। पुलिस ने 14 दिन की कस्टडी मांगी थी।
कहां रखा गया है?
-हनीप्रीत इंसां पंचकूला के सेक्टर-23 स्थित चंडीमंदिर पुलिस स्टेशन मेंं रखा गया है। यहांं पुलिस कमिश्नर एएस चावला, क्राइम अगेंस्ट वुमन आईजी ममता सिंह, डीसीपी मनबीर सिंह समेत कई अफसर उससे पूछताछ कर रहे हैं।
बाबा गुरमीत राम रहीम को किस रेप केस में हुई सजा, क्या है पूरा मामला?
- 2002 में एक साध्वी ने गुमनाम चिट्ठी लिखी। इसमें बताया गया था कि कैसे डेरा सच्चा सौदा के अंदर लड़कियों का सेक्शुअल हैरेसमेंट होता था। यह चिट्ठी पंजाब और हरियाणा कोर्ट को भी भेजी गई थी। इसके बाद डेरा सच्चा सौदा प्रमुख के खिलाफ यौन शोषण का केस शुरू हुआ। सीबीआई ने जांच शुरू की। 15 साल बाद सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने गुरमीत राम रहीम सिंह को दोषी करार दिया।
- माना जाता है कि ये चिट्ठी राम रहीम के 20 साल ड्राइवर रहे रणजीत सिंह की बहन ने लिखी थी। बाद में रणजीत का मर्डर हो गया था। इसका शक भी बाबा समर्थकों पर जताया गया। यह केस भी पंचकुला की सीबीआई कोर्ट में चल रहा है।
- दो साध्वियों के रेप केस में डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम को CBI की स्पेशल कोर्ट ने 10-10 साल की सजा सुनाई। यानी डेरा चीफ को कुल 20 साल जेल में गुजारने होंगे।
- सजा के खिलाफ डेरा सच्चा सौदा हाईकोर्ट में अपील करेगा। बता दें कि यह रेप केस 15 साल चला था।

   

स्टूडेंट ने स्कूल में किया 2 टीचर पर हमला, बाल कटवाने के लिए लगाई थी डांट

पुणे.यहां एक स्टूडेंट ने 2 टीचर्स पर धारदार हथियार से हमला कर दिया। 11th के इस स्टूडेंट को स्कूल में टीचर ने बाल न कटवाने के लिए डांट लगाई थी। तभी एक अन्य टीचर ने बीच-बचाव किया। इससे नाराज आरोपी ने दोनों पर हमला कर दिया। फिलहाल दोनों टीचर का हॉस्पिटल में इलाज जारी है। पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। स्टूडेंट ने टीचर को जातिसूचक अपशब्द भी कहे...
- घटना शुक्रवार को पुणे के वाड़े बोल्हाई इलाके में स्थित जोगेश्वरी माता सेकंडरी स्कूल की है।
- पुलिस के मुताबिक, आरोपी स्टूडेंट का नाम सुनील पोपट है। हमले में जख्मी टीचर धनंजय आबनावे और दर्शन चौधरी का पुणे के एक प्राइवेट हॉस्पिटल में इलाज जारी है।
- हमले में घायल आबनावे अनुसूचित जाति से आते हैं। आरोप है कि स्टूडेंट ने हमले के दौरान उन्हें जातिसूचक गालियां भी दीं।
- स्टूडेंट के खिलाफ पुलिस ने प्रिवेंशन ऑफ एट्रोसिटी एक्ट के तहत भी केस दर्ज हुआ है।
- दर्शन ने बताया, "मैंने जैसे ही देखा कि सुनील, धनंजय सर पर हमला कर रहा है मैंने उसका हाथ पकड़ने की कोशिश की। इससे नाराज होकर उसने ने मुझपर भी हमला कर दिया।"
- बता दें कि पहले भी सुनील पर क्लास के दो स्टूडेंट्स संग मारपीट का आरोप लग चुका है।
ऐसे अंजाम दी वारदात
- पुलिस के मुताबिक मॉर्निंग प्रेयर के दौरान टीचर स्टूडेंट्स की चेकिंग कर रहे थे। उसी समय धनंजय ने आरोपी स्टूडेंट को प्रेयर के दौरान बदमाशी करते हुए देख लिया।
- टीचर ने उसे ऐसा न करने और बाल कटवाने की सलाह देते हुए सबके सामने डांट दिया। यह बात सुनील को कदर नागवार गुजरी। प्रेयर के बाद सुनील सीधा आबनावे के पास पहुंचा और उनपर हमला कर दिया।
- हमले के दौरान बीच बचाव करने पहुंचे दर्शन चौधरी को भी गंभीर चोट आई है। वारदात को अंजाम देने के बाद से आरोपी स्टूडेंट फरार है।
- इसके बाद स्कूल प्रशासन ने इस बात की सूचना फौरन पुलिस को दी। घटनास्थल पर मौजूद स्टाफ ने घायल टीचर्स को एक निजी हॉस्पिटल में एडमिट कराया।
- इलाज के दौरान एक टीचर को 16 टांके, जबकि दूसरे शिक्षक को 5 टांके आए हैं। फिलहाल दोनों की हालत स्थिर है।

   

साल 2025-30 तक भारत दुनिया की टॉप 3 इकोनॉमी में शामिल होगा: राजनाथ

ब्लेयर.यूनियन होम मिनिस्टर राजनाथ सिंह ने कहा है कि साल 2025-30 के बीच भारत दुनिया की टॉप 3 इकोनॉमी में से एक होगा। सिंह और नितिन गडकरी दो दिन के अंडमान निकोबार आइलैंड्स के दौरे पर हैं। दोनों ने यहां कई डेवलपमेंट प्रोजेक्ट्स की फाउंडेशन रखी। यूनियन मिनिस्टर्स का दौरा गुरुवार को शुरू हुआ था। और क्या कहा राजनाथ ने...
- राजनाथ के साथ यूनियन रोड और शिपिंग मिनिस्टर नितिन गडकरी भी अंडमान और निकोबार के दौरे पर आए हैं।
- राजनाथ का बयान शिपिंग मिनिस्ट्री द्वारा जारी किया गया है। इसके मुताबिक होम मिनिस्टर ने कहा- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लीडरशिप में भारत दुनिया की टॉप 10 इकोनॉमी में शामिल हो चुका है। 2025-30 तक हम दुनिया की टॉप 3 इकोनॉमी में शामिल हो जाएंगे।
- सिंह और गडकरी ने यहां बारातांग द्वीप के लिए एक अॉल्टरनेटिव सी रूट (वैकल्पिक समुद्री मार्ग) का इनॉगरेशन किया। दोनों नेताओं ने अंडमान के लिए लिए एक ड्राय डॉक के एक्सटेंशन प्रोजेक्ट की भी फाउंडेशन रखी।
अंडमान के प्रोजेक्ट्स पर होम मिनिस्ट्री की भी नजर
- इस मौके पर राजनाथ ने कहा कि अंडमान और निकोबार में चल रहे प्रोजेक्ट्स को लेकर होम मिनिस्ट्री की एडवाइजरी पैनल ने कुछ इश्यू पर राय दी है। सिंह ने कहा कि हमें डेवलपमेंट और सिक्युरिटी इन दोनों मुद्दों को ध्यान में रखकर आगे बढ़ना होगा। देश की सिक्युरिटी सबसे ज्यादा अहम है।
- उन्होंने कहा कि सिर्फ दीवारें खड़ी करने से देश की सिक्युरिटी नहीं की जा सकती। इसके लिए समुद्र और हवा में ताकत बढ़ानी पड़ेगी।
गडकरी ने क्या कहा
- गडकरी ने इस मौके पर कहा कि वक्त की जरूरत है कि हम टेक्नोलॉजी, रिसर्च और इनोवेशन पर फोकस करें। उन्होंने शिप बिल्डिंग इंडस्ट्री में प्राइवेट इन्वेस्टमेंट्स पर भी जोर दिया।
- शिपिंग मिनिस्टर ने कहा कि अगले तीन साल में अंडमान और निकोबार के लिए 14 नए शिप दिए जाएंगे। उन्होंने डीजल की जगह सोलर और विंड पावर से चलने वाले शिप पर ध्यान देने को कहा, क्योंकि इससे पाॅल्यूशन की दिक्कत नहीं होगी।
- गडकरी ने इन्वेस्टर्स से अपील में कहा कि वो टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए प्राइवेट क्रूज डेवलप करें।

   

महात्मा गांधी मर्डर केस में एमिकस क्यूरी अप्वाइंट, मामले की फिर से जांच की मांग

दिल्ली. महात्मा गांधी मर्डर केस की फिर से जांच की मांग करने वाली पिटीशन पर शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई की। कोर्ट ने इस मामले में एमिकस क्यूरी (न्यायमित्र) अप्वाइंट किया और कुछ सवाल भी उठाए। कोर्ट ने पिटीशनर से कहा, "इस मामले में आपके हिसाब से तीसरा शख्स भी शामिल था, क्या वह ट्रायल का सामना करने के लिए आज जिंदा है?" सुप्रीम कोर्ट ने ये भी कहा कि इस मामले में किसी संगठन को दोषी नहीं ठहरा सकते, कोई जिंदा हो तो बताइए। पूर्व ASG को बनाया एमिकस क्यूरी...
- न्यूज एजेंसी के मुताबिक, जस्टिस एसए बोबड़े और जस्टिस एल नागेश्वर राव की बेंच ने पिटीशन पर सुनवाई की। बेंच ने सीनियर एडवोकेट और पूर्व एडिशनल सॉलिसिटर जनरल (ASG) अमरेंद्र सरन को इस मामले में कोर्ट की मदद के लिए एमिकस क्यूरी (न्यायमित्र) अप्वाइंट किया।
इस मामले में कानूनन अब कुछ नहीं किया जा सकता
- सुप्रीम कोर्ट ने पिटीशन पर करीब 15 मिनट सुनवाई की और कहा कि इस मामले में कानूनन अब कुछ नहीं किया जा सकता, क्योंकि फैसला बहुत पहले दिया जा चुका है।
- बेंच ने सरन से कहा, "हमारा मानना है कि मामले का असेसमेंट करने के लिए उसका ऑब्जर्वेशन करना जरूरी नहीं है।" इसके साथ ही कोर्ट ने इस मामले की अगली सुनवाई के लिए 30 अक्टूबर की तारीख मुकर्रर कर दी।
अभिनव भारत के ट्रस्टी ने फाइल की है पिटीशन
- महात्मा गांधी मर्डर केस की फिर से जांच की मांग करने वाली पिटीशन मुंबई के डॉ. पंकज फड़नीस ने फाइल की है। फड़नीस एक रिसर्चर और अभिनव भारत के ट्रस्टी हैं।
- फड़नीस ने कई आधारों पर केस की फिर से जांच की मांग की है। इन्होंने दावा किया है कि यह केस इतिहास में सबसे ज्यादा गुप्त रखे गए मामलों में से एक है।
हमें इस केस को फिर से क्यों खोलना चाहिए: SC
- फड़नीस ने अपनी पिटीशन के सपोर्ट में कुछ अतिरिक्त दस्तावेज जमा करने के लिए सुप्रीम कोर्ट से कुछ वक्त मांगा। उसने कहा कि उसे मामले से जुड़े कुछ नए अहम दस्तावेज मिले हैं। इस पर कोर्ट ने कहा, "मामले में इस स्टेज पर अब हम क्या कर सकते हैं? हमें इस केस को फिर से क्यों खोलना चाहिए? हम आपको पहले ही काफी वक्त दे चुके हैं।"
- जब सुप्रीम कोर्ट ने पिटीशनर से कानून की सीमाओं का जिक्र किया तो उसने कहा कि वह इस बारे में जानता है।
गोडसे ने मारी थी गोली
- महात्मा गांधी को 30 जनवरी, 1948 को नई दिल्ली में नाथूराम गोडसे ने प्वाइंट ब्लैंक रेंज से गोली मारी थी। गोडसे हिंदू राष्ट्रवाद की राइट विंग का समर्थक था।

   

10 Cr में बना देश का सबसे महंगा दुर्गा पंडाल, बाहुबली के माहिष्मती महल जैसा

कोलकाता/सूरत.देशभर में मां दुर्गा की आराधना का पर्व शुरू हो चुका है। पश्चिम बंगाल की दुर्गा पूजा भव्य पंडालों के लिए मशहूर है। इस बार कोलकाता में अलग-अलग थीम पर मां दुर्गा के 3 हजार पंडाल बनाए गए हैं। इसमें एक पंडाल ऐसा भी है, जिसे बनाने में 10 करोड़ रुपए खर्च हुए हैं। यह पंडाल फिल्म बाहुबली-2 में माहिष्मती के महल की तर्ज पर बना है। इसकी ऊंचाई 110 फीट है। सीएम ममता बनर्जी ने इसे देश का सबसे महंगा पंडाल होने का सर्टिफिकेट दिया है। उधर, गुजरात के सूरत में नवरात्रि के पहले दिन एशिया के सबसे बड़े गरबा में 7 हजार लोग शामिल हुए। 150 कलाकारों ने 3 महीने में तैयार किया 'माहिष्मति पंडाल'...
- कोलकाता में लेक टाउन के पास श्रीभूमि स्पोर्टिंग क्लब ने भव्य पंडाल बनाया है। इसे 150 कलाकारों ने तीन महीने में बनाकर तैयार किया। क्लब के सचिव डीके गोस्वामी ने बताया कि दुनियाभर में फिल्म बाहुबली को मिली पब्लिसिटी को देखते हुए हमने इस थीम पर पंडाल बनाया है। यह पंडाल शुक्रवार से भक्तों के लिए खुलेगा।
- सोने से दमकते माहिष्मती महल के मुख्य द्वार पर सूंड उठाए हुए दो हाथी भी बनाए गए हैं। थोड़ा आगे बढ़ने पर ही 8 दरबान खड़े हुए हैं। महल के अंदर प्रवेश करने पर एक बड़ा सा झूमर और मां दुर्गा की सोने-चांदी और हीरे-जवाहरात से सजी प्रतिमा है। 110 फीट ऊंची झांकी की सिक्युरिटी में 300 जवान तैनात हैं।
सूरत में एशिया का सबसे बड़ा गरबा
-गुजरात का गरबा महोत्सव दुनिभाभर में मशहूर है। सूरत में ऑडियंस की तादाद के लिहाज से एशिया के सबसे बड़े गरबा में नवरात्रि के पहले दिन गुरुवार को 7000 लोग रास में रमे। 600-600 लोगों के 12 समूह अलग-अलग पहनावे में रात 1 बजे तक गरबा का लुत्फ लिया। पूरे सूरत शहर में गुजराती लोक नृत्य गरबा की रंगत शुरू हो चुकी है।
- सूरत में ही स्केटिंग गरबा आकर्षण का केंद्र है। इसको लेकर युवाओं में काफी जोश है। वे स्केट्स के सहारे डोढ़िया, तिकड़ी और छकड़ी जैसे स्टेप पर डांडिया खेल रहे हैं।
- शहर के एक गरबा में एलईडी लगी चणिया-चोली बनाई गई हैं, जो मोशन-सेंसर लगे होने से गरबा के दौरान जलती हैं। अहमदाबाद में दिव्यांगों के लिए खास गरबा हो रहा है।
मुंबई, रायपुर में नॉइज पॉल्यूशन रोकने के लिए साइलेंट गरबा
- मुंबई और रायपुर में इस बार नए अंदाज में गरबा हो रहा है। यहां डांडिया के लिए बड़े-बड़े साउंड सिस्टम नहीं लगे हैं। बल्कि लोग वायरलेस हेडफोन पर गाना सुनकर गरबा खेल रहे हैं। इसका मकसद, नॉइज पॉल्यूशन को कम करना है। मुंबई के मलाड वेस्ट में राजमहल बैंक्वेट साइलेंट गरबा का आयोजन हो रहा है।
- वैंक्वेट हॉल के मालिक मोनेश सोनी कहते हैं, ‘हमें यह आइडिया ‘ऐ दिल है मुश्किल’ फिल्म के एक गाने को देखकर आया। इसमें साइलेंट डिस्को सॉन्ग पर रणबीर कपूर और अनुष्का शर्मा ने डांस किया है। इससे देर रात तक लोग बिना कोई शोरगुल के लाइव कंसर्ट का आनंद ले सकेंगे।

   

aaj ki khaber

Epaper

राष्ट्रीय संस्करण

हरियाणा प्लस

सिरसा संस्करण

 


YOU ARE VISITOR NO.1823993

Site Designed by Manmohit Grover