You are here:

साल 2025-30 तक भारत दुनिया की टॉप 3 इकोनॉमी में शामिल होगा: राजनाथ

E-mail Print PDF

ब्लेयर.यूनियन होम मिनिस्टर राजनाथ सिंह ने कहा है कि साल 2025-30 के बीच भारत दुनिया की टॉप 3 इकोनॉमी में से एक होगा। सिंह और नितिन गडकरी दो दिन के अंडमान निकोबार आइलैंड्स के दौरे पर हैं। दोनों ने यहां कई डेवलपमेंट प्रोजेक्ट्स की फाउंडेशन रखी। यूनियन मिनिस्टर्स का दौरा गुरुवार को शुरू हुआ था। और क्या कहा राजनाथ ने...
- राजनाथ के साथ यूनियन रोड और शिपिंग मिनिस्टर नितिन गडकरी भी अंडमान और निकोबार के दौरे पर आए हैं।
- राजनाथ का बयान शिपिंग मिनिस्ट्री द्वारा जारी किया गया है। इसके मुताबिक होम मिनिस्टर ने कहा- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लीडरशिप में भारत दुनिया की टॉप 10 इकोनॉमी में शामिल हो चुका है। 2025-30 तक हम दुनिया की टॉप 3 इकोनॉमी में शामिल हो जाएंगे।
- सिंह और गडकरी ने यहां बारातांग द्वीप के लिए एक अॉल्टरनेटिव सी रूट (वैकल्पिक समुद्री मार्ग) का इनॉगरेशन किया। दोनों नेताओं ने अंडमान के लिए लिए एक ड्राय डॉक के एक्सटेंशन प्रोजेक्ट की भी फाउंडेशन रखी।
अंडमान के प्रोजेक्ट्स पर होम मिनिस्ट्री की भी नजर
- इस मौके पर राजनाथ ने कहा कि अंडमान और निकोबार में चल रहे प्रोजेक्ट्स को लेकर होम मिनिस्ट्री की एडवाइजरी पैनल ने कुछ इश्यू पर राय दी है। सिंह ने कहा कि हमें डेवलपमेंट और सिक्युरिटी इन दोनों मुद्दों को ध्यान में रखकर आगे बढ़ना होगा। देश की सिक्युरिटी सबसे ज्यादा अहम है।
- उन्होंने कहा कि सिर्फ दीवारें खड़ी करने से देश की सिक्युरिटी नहीं की जा सकती। इसके लिए समुद्र और हवा में ताकत बढ़ानी पड़ेगी।
गडकरी ने क्या कहा
- गडकरी ने इस मौके पर कहा कि वक्त की जरूरत है कि हम टेक्नोलॉजी, रिसर्च और इनोवेशन पर फोकस करें। उन्होंने शिप बिल्डिंग इंडस्ट्री में प्राइवेट इन्वेस्टमेंट्स पर भी जोर दिया।
- शिपिंग मिनिस्टर ने कहा कि अगले तीन साल में अंडमान और निकोबार के लिए 14 नए शिप दिए जाएंगे। उन्होंने डीजल की जगह सोलर और विंड पावर से चलने वाले शिप पर ध्यान देने को कहा, क्योंकि इससे पाॅल्यूशन की दिक्कत नहीं होगी।
- गडकरी ने इन्वेस्टर्स से अपील में कहा कि वो टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए प्राइवेट क्रूज डेवलप करें।

 

aaj ki khaber

Epaper

राष्ट्रीय संस्करण

हरियाणा प्लस

सिरसा संस्करण

 


YOU ARE VISITOR NO.1853228

Site Designed by Manmohit Grover