You are here:

राशन गेहूं की कालाबाजारी: एक IAS और RAS समेत 5 अफसर और सस्पेंड

E-mail Print PDF

जयपुर.राशन के गेहूं की कालाबाजारी के खिलाफ भास्कर के खुलासे के बाद एसीबी के छापे और अफसरों के खिलाफ बुधवार को दूसरे दिन भी कार्रवाई जारी रही। बुधवार देर रात जोधपुर में एक आईएएस और उदयपुर में एक आरएएस अफसर सहित पांच अफसरों को सस्पैंड कर दिया गया। जोधपुर डीएसओ और आईएएस अफसर निर्मला मीणा व उदयपुर डीएसओ व आरएएस अफसर जगमोहन सिंह के निलंबन आदेश कार्मिक विभाग से जारी हुए।
- जोधपुर ग्रामीण के डीएसओ सुरेशदत्त को भी सस्पैंड किया गया है। खाद्य विभाग ने खाद्य आपूर्ति निगम नागौर की प्रबंधक अल्पी व उदयपुर में इसी निगम के प्रबंधक लोकेश तलेसरा को भी निलंबित किया गया। इससे एक दिन पहले सरकार ने 4 डीएसओ, दस प्रवर्तन अधिकारी और प्रवर्तन अधिकारियों को निलंबित किया था। इसके अलावा 12 राशन डीलरों के लाइसेंस रद्‌द किए थे। बुधवार को एसीबी की छापामार कार्रवाई भी जारी रही।
भास्कर ने बताया था गरीबों के गेहूं में लगा है भ्रष्टाचार का घुन
दैनिक भास्कर ने 10 अक्टूबर के अंक में खुलासा किया था कि गरीबों का गेहूं बाजार में बिक रहा है। भास्कर ने 29 बोरी खरीदी, फिर खाद्य मंत्री के घर ले जाकर राशन घोटाले का सच दिखाया था। इसके बाद खाद्य विभाग चेता। पहले ही दिन 14 अफसर निलंबित किए गए, 60 मिलों पर छापे पड़े। 12 राशन डीलरों के लाइसेंस रद्द हुए। कार्रवाई जारी है।
आईएएस निर्मला छह बार जोधपुर में डीएसओ बन चुकीं, आरएएस 15 साल से उदयपुर में जमे हैं
- जोधपुर डीएसओ निर्मला मीणा हाल ही आरएएस से पदोन्नत होकर आईएएस बनी हैं। वे छह बार जोधपुर में डीएसओ रह चुकी हैं। इनके साथ निलंबित उदयपुर डीएसओ जगमोहन सिंह 1 जून 2002 से उदयपुर में ही पोस्टेड हैं। - दोनों अफसरों को निलंबन अवधि के दौरान सचिवालय स्थित कार्मिक विभाग में उपस्थिति देने के निर्देश दिए गए हैं। कार्मिक विभाग से जारी आदेश के अनुसार दोनों अफसरों पर कई तरीकों की शिकायतें मिली हैं। इनकी जांच जारी है।
राशन डीलर और हाेलसेलर्स का रिकॉर्ड जब्त
- एसीबी ने बुधवार को पाली और राजसमंद जिले में 30 से ज्यादा जगहों पर उचित मूल्य की दुकानों पर आकस्मिक छापेमारी कर रिकॉर्ड जब्त किया। इसमें वह गांव भी शामिल है जहां राशन डीलर अपना मोबाइल नंबर पूरे गांव के ओटीपी नंबर के लिए इस्तेमाल कर रहा था।
चित्तौड़गढ़ व प्रतापगढ़ की राशन की दुकानों पर भी छापा मारा। यहां दुकानों पर काफी अनियमितता मिली और दस्तावेज जब्त किए गए। इसके अलावा एफसीआई गोदाम, राशन दुकान व होलसेलरों का रिकॉर्ड भी जब्त किया गया।
जोधपुर में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत राशन की दुकानों का गेहूं शहर की आटा मिलों में पहुंचने के संदेह में एसीबी की दो टीमें जब्त दस्तावेजों की जांच कर रही हैं। एसीबी ने बोरानाडा क्षेत्र में दो आटा मिलों पर कार्रवाई की।

 

aaj ki khaber

Epaper

राष्ट्रीय संस्करण

हरियाणा प्लस

सिरसा संस्करण

 


YOU ARE VISITOR NO.1852924

Site Designed by Manmohit Grover