You are here:

हनीप्रीत का 3 दिन का रिमांड खत्म, विपश्यना के सामने बिठा हो सकती है पूछताछ

E-mail Print PDF

सिरसा/पानीपत। गुरमीत राम रहीम की राजदार हनीप्रीत से पुलिस पूछताछ का गुरुवार को आखिरी दिन है। पुलिस द्वारा लिया गया 3 दिन का रिमांड आज खत्म हो जाएगा। ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि हनीप्रीत को किसी भी समय सिरसा डेरा सच्चा सौदा में पूछताछ के लिए लाया जा सकता है। चर्चा है कि पुलिस हनीप्रीत और विपश्यना को आमने-सामने बैठाकर पूछताछ करना चाहती है। आखिरी दिन पूछताछ में एड़ी-चोटी का जोर लगाएगी पुलिस...
- पूछताछ का आज आखिरी दिन होने के कारण पुलिस एडी चोटी का जोर लगाएगी। पुलिस ने 10 अक्टूबर को हनीप्रीत का पुलिस रिमांड खत्म हुआ था। पुलिस ने उसी दिन विपश्यना को पूछताछ के लिए पंचकूला बुलाया था।
- वह स्वास्थ्य खराब होने का हवाला देकर वहां नहीं पहुंची। अब पुलिस आखिरी दिन हनीप्रीत को डेरा सच्चा सौदा लेकर जा सकती है और हनीप्रीत और विपश्यना को आमने-सामने बैठाकर पूछताछ कर सकती है।
बुधवार को राजस्थान लेकर गई थी पुलिस
- हनीप्रीत को हरियाणा पुलिस बुधवार दोपहर बाद राजस्थान के श्रीगंगानगर और हनुमानगढ़ लेकर पहुंची थी। फरारी के दौरान हनीप्रीत दोनों जिलों में जहां-जहां रही, उन ठिकानों पर इस बात को कन्फर्म किया गया। पुलिस ने देर रात तक राम रहीम के बर्थ प्लेस गुरुसर मोडिया में कार्रवाई की।
- जानकारी के मुताबिक, पंचकूला पुलिस 7 गाड़ियों में हथियारबंद फोर्स के साथ हनीप्रीत को लेकर श्रीगंगानगर के गांव लाधुवाला के पास गिलों की ढाणी पहुंची। फरारी के दौरान हनीप्रीत यहां पर 2 दिन रुकी थी। बताया जा रहा है कि जिस ढाणी में वह ठहरी, वहां पर राम रहीम के रिश्तेदार रहते हैं।
- इस जगह पर जांच करने के बाद पुलिस टीम हनीप्रीत को लेकर शाम करीब पौने सात बजे हनुमानगढ़ के गांव गुरुसर मोडिया पहुंची। यहां पर गुरमीत राम रहीम का पुश्तैनी मकान है। टीम पहले सीधे वहां पर गई। वहां से डेरा सच्चा सौदा के सीनियर सेकेंडरी गर्ल्स स्कूल के हॉस्टल और हॉस्पिटल पहुंची। हनीप्रीत यहां पर तीन दिन तक रुकी थी।
- यहां से निकलकर ही वह गिलों की ढाणी में ठहरी थी। हरियाणा के पंचकूला एएसपी मुकेश मल्होत्रा टीम के साथ राजस्थान आए हुए थे। हरियाणा पुलिस अपनी कार्रवाई पूरी कर देर रात पंचकूला लौट गई।
हनीप्रीत ने कबूली पैसे बांटने और पंचकूला हिंसा में हाथ होने की बात
- वहीं, चंडीगढ़ में रिमांड के दौरान हनीप्रीत ने बुधवार को कबूल किया कि पंचकूला में हिंसा उसके इशारे पर हुई। एसआईटी के मुताबिक, हनीप्रीत ने बताया कि हिंसा के लिए उसने सवा करोड़ रुपए भी बांटे थे।
- बता दें, कि रिमांड के बाद मंगलवार को एसआईटी कोर्ट ने हनीप्रीत और सुखदीप कौर को पंचकूला कोर्ट में पेश किया था। इससे पहले हनीप्रीत को 4 अक्टूबर को कोर्ट में पेश किया गया था।
- इस दौरान हनीप्रीत ने रोते हुए कहा था कि मैं बेगुनाह हूं। हनीप्रीत पर 25 अगस्त को पंचकूला में हुई हिंसा की साजिश रचने का आरोप है।
- पंचकूला हिंसा में 36 लोग मारे गए थे और सिरसा में भी 5 की मौत हुई थी। हनीप्रीत देशद्रोह के आरोप में गिरफ्तार है और रिमांड पर चल रही है।

 

aaj ki khaber

Epaper

राष्ट्रीय संस्करण

हरियाणा प्लस

सिरसा संस्करण

 


YOU ARE VISITOR NO.1824003

Site Designed by Manmohit Grover