You are here:

राम रहीम से जुड़े दो मामलों पर HC में हुई सुनवाई, दोनों ही याचिकाओं को किया स्वीकार

E-mail Print PDF

चंडीगढ़. डेरामुखी गुरमीत राम रहीम ने सीबीआई की विशेष अदालत द्वारा सुनाई गई 20 साल की सजा को पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट में चुनौती दी है। वहीं, दूसरी तरफ दोनों पीड़ित साध्वियों ने डेरामुखी की सजा को उम्रकैद में तब्दील कराने के लिए हाईकोर्ट में याचिका लगाई है। दोनों ही याचिकाओं पर सोमवार को जस्टिस सूर्यकांत और जस्टिस सुधीर मित्तल की बेंच सुनवाई करते हुए दोनों याचिकाओं को स्वीकार कर लिया है।
सोमवार को हाईकोर्ट ने रामरहीम की याचिका को स्वीकार करते हुए सीबीआई को भी इस पर अपना पक्ष रखने को कहा है। वहीं, साध्वियों की सजा बढ़ाने की अपील को स्वीकार करते हुए डेरा मुखी के वकील को अपना पक्ष रखने को कहा है।
सुनवाई के दौरान डेरामुखी की तरफ से सीबीआई की विशेष अदालत द्वारा लगाए गए 30 लाख 20 हजार रुपए जुर्माने पर रोक लगाने की मांग की गई। इसे हाईकोर्ट ने नामंजूर करते हुए इसे 2 महीने में पंचकूला की सीबीआई कोर्ट में राशि जमा कराने को कहा है। यह सारी जुर्माना राशि हाईकोर्ट ने सीबीआई कोर्ट के नाम पर एफटीआर (फिक्स्ड डिपाजिट) कराने के निर्देश दिए हैं।
ये ही दोनों पक्षों का मामला..
एक तरफ, डेरामुखी ने अपनी सजा को खारिज करने की मांग की है। कहा है कि सीबीआई कोर्ट ने यह तक जानने की कोशिश नहीं की कि वह रेप कर सकता है या नहीं। जज ने पूर्वाग्रह के आधार पर ही सजा सुना दी।
दूसरी तरफ, साध्वियों ने डेरामुखी की सजा को उम्रकैद में तब्दील करने की मांग करते हुए कहा गया कि यह मामला भावनाओं से खिलवाड़ का है। एक गुरु ने अपनी अनुयायी से रेप किया। उसे ज्यादा से ज्यादा सजा देकर एक उदाहरण पेश करना चाहिए।
कैसे सामने आया मामला?
- 2002 में एक साध्वी ने गुमनाम चिट्ठी लिखी। इसमें बताया गया था कि कैसे डेरा सच्चा सौदा के अंदर लड़कियों का सेक्शुअल हैरेसमेंट होता था। यह चिट्ठी पंजाब और हरियाणा कोर्ट को भी भेजी गई थी। इसके बाद डेरा सच्चा सौदा प्रमुख के खिलाफ यौन शोषण का केस शुरू हुआ। सीबीआई ने जांच शुरू की।
- माना जाता है कि ये चिट्ठी राम रहीम के 20 साल ड्राइवर रहे रणजीत सिंह की बहन ने लिखी थी। बाद में रणजीत का मर्डर हो गया था। इसका शक भी बाबा समर्थकों पर जताया गया।
राम रहीम को 20 साल की सजा
- 15 साल बाद 25 अगस्त 2017 को सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने गुरमीत राम रहीम को दोषी करार दिया। दो साध्वियों के रेप केस में डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम को CBI की स्पेशल कोर्ट ने 20 साल की सजा सुनाई। यानी डेरा चीफ को कुल 20 साल जेल में गुजारने होंगे।

 

aaj ki khaber

Epaper

राष्ट्रीय संस्करण

हरियाणा प्लस

सिरसा संस्करण

 


YOU ARE VISITOR NO.1802712

Site Designed by Manmohit Grover