You are here:

दिसंबर में तीन वनडे मैचों की भारत-पाक सीरीज

नयी दिल्ली, 16 जुलाई। भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय क्रिकेट संबंध पांच साल के अंतराल बाद फिर से शुरू होने जा रहे हैं क्योंकि बीसीसीआई ने आज पड़ोसी देश की टीम को दिसंबर में तीन मैचों की वनडे श्रृंखला के लिये आमंत्रित करने का फैसला किया है। तीनों वनडे मैच दिल्ली, कोलकाता और चेन्नई में आयोजित होंगे जबकि दो वनडे मैच अहमदाबाद और बंगलुरु में कराए जाएंगे। वर्ष 2008 मुंबई आतंकवादी हमले के बाद दोनों देशों के बीच क्रिकेट रिश्ते खत्म हो गये थे और पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) द्वारा हाल के महीनों में बीसीसीआई को मनाने के कई प्रयास किये जा चुके हैं। बीसीसीआई के शीर्ष अधिकारी ने यहां कार्यकारी समिति की बैठक के बाद कहा, ‘‘सरकार सैद्धांतिक रूप से पाकिस्तानी टीम की मेजबानी के लिये तैयार है।" पीसीबी ने इससे पहले प्रस्ताव दिया था कि भारतीय टीम पाकिस्तान का दौरा कर सकती है या फिर उनके साथ तटस्थ स्थल में खेल सकती है। भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय क्रिकेट संबंध शुरू होने की कवायद को तब बल मिला जब दोनों देशों के विदेश सचिव ने जोर दिया कि दोनों देशों के बीच खेल रिश्ते मजबूत होने चाहिए। संबंधों में कड़वाहट इससे पहले ही कम होनी शुरू हो गयी थी जब बीसीसीआई ने पाकिस्तान की घरेलू ट्वेंटी20 चैम्पियन टीम सियालकोट स्टालियंस को इस साल के अंत में दक्षिण अफ्रीका में आयोजित हो रहे चैम्पिंयस लीग ट्वेंटी20 के क्वालीफाइंग टूर्नामेंट में भाग लेने के लिये आमंत्रित किया था।

   

किरण मोरे को बीसीसीआई से माफी मिली

नयी दिल्ली, 16 जुलाई। बीसीसीआई ने आज पूर्व भारतीय विकेटकीपर किरण मोरे को माफी दे दी जिससे उनकी क्रिकेट की राष्ट्रीय शीर्ष संस्था में वापसी का रास्ता साफ हो गया और इससे वह एक मुश्त लाभार्थी भुगतान सूची में भी शामिल हो जायेंगे। मोरे 2007 में पूर्व भारतीय कप्तान कपिल देव और कई अन्य खिलाड़ियों के साथ मिलकर इंडियन क्रिकेट लीग (आईसीएल) से जुड़ गये थे इसलिये उन्हें बीसीसीआई ने तुरंत प्रभाव से प्रतिबंधित कर दिया था। मोरे को माफ करने का फैसला बीसीसीआई की आज यहां हुई कार्यकारी समिति की बैठक में लिया गया। बीसीसीआई के सीनियर अधिकारी राजीव शुक्ला ने पत्रकारों से कहा, ‘‘मोरे की माफी का आवेदान स्वीकार कर लिया गया है।" आईपीएल के पांचवें सत्र से पहले मोरे ने बीसीसीआई को लिखकर माफी मांगी थी। उनकी यह अपील 2009 में बीसीसीआई ने ठुकरा दी थी। वह आईसीएल से जुड़ने से पहले मुख्य चयनकर्ता थे। जहां तक लाभार्थी योजना का सवाल है तो मोरे 49 टेस्ट और 94 वनडे खेल चुके हैं जिससे उन्हें एकमुश्त लाभ के तहत 60 लाख रूपये मिलेंगे। इसके साथ ही उन्हें मिलने वाली पेंशन, जो रोक दी गयी थी, वह भी शुरू हो जायेगी और उनका लंबित बकाया भी मिलने की उम्मीद है।

   

भारत के शीर्ष युगल खिलाड़ी पूर्व रैंकिंग पर बरकरार

नयी दिल्ली, 16 जुलाई। लंदन ओलंपिक में हिस्सा लेने जा रहे भारत के शीर्ष पुरुष युगल खिलाड़ी लिएंडर पेस, रोहन बोपन्ना और महेश भूपति नवीनतम एटीपी टेनिस रैंकिंग में अपनी पिछली रैंकिंग पर बरकार हैं। पेस पुरुष युगल रैंकिंग में अपनी पिछली पांचवीं रैंकिंग पर बरकरार रहते हुए भारत के शीर्ष खिलाड़ी हैं जबकि लंदन में जोड़ी बनाने वाले बोपन्ना और भूपति क्रमश: 14वें और 15वें स्थान पर बने हुए हैं। लंदन में पेस के साथ जोड़ी बनाने वाले विष्णु वर्धन नौ स्थान के नुकसान से 217वें स्थान पर खिसक गए हैं।
एकल रैंकिंग में युवा युकी भांबरी भारत के शीर्ष खिलाड़ी हैं लेकिन वह शीर्ष 200 में भी शामिल नहीं हैं। वह दो स्थान के फायदे के साथ 218वें नंबर पर हैं। दूसरी तरफ महिला डब्ल्यूटीए युगल रैंकिंग में सानिया मिर्जा भी 18वें स्थान पर कायम हैं। उन्हें हालांकि एकल रैंकिंग में एक स्थान का फायदा हुआ है और वह 248वें पायदान पर हैं।

   

जेकेसीए घोटाले के दोषियों को सजा मिलेगी: अब्दुल्ला

श्रीनगर, 16 जुलाई । केंद्रीय मंत्री फारूख अब्दुल्ला ने आज कहा कि जम्मू एवं कश्मीर क्रिकेट संघ (जेकेसीए) घोटाले में शामिल लोगों के साथ न्याय किया जायेगा और दोषियों को सजा दी जायेगी। अब्दुल्ला ने यहां क्रिकेट टूर्नामेंट का उद्घाटन करते हुए पत्रकारों से कहा, ‘‘इस घोटाले की जांच चल रही है और जो भी दोषी है उसे सजा दी जायेगी।"
उन्होंने स्वीकार किया कि मामले की जांच धीमी चल रही है लेकिन आश्वासन दिया कि घोटाले में लिप्त लोगों को सामने लाया जायेगा और उन्हें कड़ी सजा दी जायेगी। इस साल के शुरू में जेकेसीए में कई करोड़़ रूपये का घोटाला सामने आया था। इस मामले की आंतरिक जांच के अलावा पुलिस भी जांच कर रही है।

   

हाकी टूर्नामेंटः ब्रिटेन से 1-3 से हारा भारत

सेनटेंडर, 15 जुलाई। भारत को शुरूआती बढ़त बनाने के बावजूद तीन देशों के आमंत्रण हाकी टूर्नामेंट के पहले मैच में यहां ब्रिटेन के हाथों 1–3 से शिकस्त का सामना करना पड़ा। बारिश के कारण खेल की रफ्तार पर असर पड़ा लेकिन टीमों को संभवत: उन हालात में खेलने का मौका मिला जैसे 27 जुलाई से शुरू हो रहे लंदन ओलंपिक के दौरान हो सकते हैं। भारत ने अच्छी शुरूआत की और तीसरे मिनट में ही बढ़त बना ली जब काउंटर अटैक पर तुषार खांडेकर के क्रास को शिवेंद्र सिंह ने डिफलेक्ट करते हुए गोल में पहुंचाया। दो मिनट के अंदर भारतीय कप्तान और गोलकीपर भरत छेत्री ने विरोधी टीम के दो अच्छे प्रयासों को नाकाम किया लेकिन जेम्स टिंडेल ने 17वें मिनट में पेनल्टी कार्नर पर गोल दागकर अपनी टीम को बराबरी दिल दी। मध्यांतर तक स्कोर 1–1 से बराबर रहा। दूसरे हाफ के शुरूआती मिनट में ही ब्रिटेन के गोलकीपर जेम्स फेयर ने खांडेकर के अच्छे प्रयास को विफल किया। एशले जेक्स ने इसके बाद 45वें मिनट में पेनल्टी स्ट्रोक को गोल में बदलकर ब्रिटेन को 2–1 से आगे कर दिया जबकि हैरी मार्टिन ने 62वें मिनट में छेत्री के पैड से रिबाउंड होकर आई गेंद को गोल में पहुंचाकर स्कोर 3–1 किया। ब्रिटेन और स्पेन के बीच टूर्नामेंट का अगला मैच सोमवार को खेला जाएगा जबकि भारत को अपने अगले मैच में 18 जुलाई को स्पेन का सामना करना है।

   

aaj ki khaber

Epaper

राष्ट्रीय संस्करण

हरियाणा प्लस

सिरसा संस्करण

 


YOU ARE VISITOR NO.1824041

Site Designed by Manmohit Grover