You are here:

'धौनी संन्यास लेगा तो विराट वनडे, टी-20 कप्तान बन जाएगा'

पटना, धौनी vs विराट
टीम इंडिया के टेस्ट कप्तान विराट कोहली और वनडे, टी-20 कप्तान महेंद्न सिंह धौनी के बीच तुलना बहुत लंबे समय से की जा रही है। कई दिग्गज मानते हैं कि टेस्ट क्रिकेट में विराट की अगुवाई में टीम इंडिया की स्थिति को देखते हुए उन्हें वनडे और टी-20 टीम की कमान भी सौंप दी जानी चाहिए। आईसीसी वनडे टीम ऑफ द ईयर में भी विराट कोहली को कप्तान बनाया गया है और इसके बाद यह बहस औैर तेज हो गई है।
विराट और धौनी की कप्तानी के बारे में बुधवार को टीम के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज और पूर्व चयनकर्ता सबा करीम ने कहा था, 'विराट तीनों फॉरमैट में कप्तानी करने में सक्षम है। लेकिन महेंद्र सिंह धौनी को पहले ही चैंपियन्स ट्रॉफी 2017 तक कप्तान नियुक्त कर दिया गया है। जब धौनी संन्यास लेगा तो विराट वनडे और टी-20 में भी कप्तानी का जिम्मा संभाल लेगा।'

   

हरभजन सिंह ने कांग्रेस से जुडऩे की खबरों का खंडन किया

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी हरभजन सिंह ने उन सभी रिपोर्ट का खंडन किया है, जिसमें कहा गया है कि वह पंजाब में कांग्रेस पार्टी से जुड़ेंगे। हरभजन ने कहा कि उनका निकट भविष्य में राजनीति में शामिल होने का कोई इरादा नहीं है।
क्रिकेट खिलाड़ी ने अपने एक ट्वीट में कहा कि मेरा आने वाले समय में राजनीति में शामिल होने का कोई इरादा नहीं है। कृपया ऐसी अफवाहें फैलाना बंद करें। पंजाब में अगले साल नए विधानसभा चुनाव होने वाले हैं।
ऐसा भी कहा जा रहा है कि पूर्व क्रिकेट खिलाड़ी और नेता नवजोत सिंह सिद्धू जल्द ही कांग्रेस से जुड़ेंगे। वह भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) छोड़ चुके हैं।

   

भारत ने कोरिया को हराकर जीता कांस्य, हर खिलाड़ी को मिलेगा ईनाम

बैंकॉक। संगीता कुमारी और रितु रानी के शानदार खेल से भारत ने दक्षिण कोरिया को 3-0 से हराकर कांस्य पदक अपने नाम कर लिया। संगीता ने दो तथा रितु ने एक गोल कर टीम को जीत दिलाई।
मैच के शुरुआत से ही दोनों टीमों ने शानदार खेल दिखाया पर कोई भी गोल नहीं हो सका। पहले हाफ में भारतीय टीम ने हालांकि कोरिया पर दबाव बनाया पर गोल नहीं कर पाईं। कोरिया को पहले हाफ में कई पेनाल्टी कॉर्नर मिले लेकिन वे एक भी गोल नहीं कर पाईं।
दूसरे हाफ की शुरुआत भारत को पेनाल्टी कॉर्नर मिला जिसे रितू ने गोल में बदल कर भारत को बढ़त दिलाई। 55वें मिनट में संगीता ने बेहतरीन गोल करते हुए भारतीय टीम का स्कोर 2-0 कर दिया। तीन मिनट बाद ही संगीता ने अपना दूसरा और टीम का तीसरा गोल दाग दिया।
शानदार जीत के बाद हॉकी इंडिया ने विजेता टीम की हर खिलाड़ी को एक-एक लाख रुपये और सहयोगी स्टाफ को 50-50 हजार रुपये बतौर ईनाम देने की घोषणा की है।

   

T20 में बनते-बनते रह गए 500 रन, मैच में लगे 34 छक्के, जयवर्धने का कमाल

स्पोर्ट्स डेस्क. T20 मैचों में अब 500 रन बनने भी संभव है। ऐसा होते-होते रह गया न्यूजीलैंड में चल रही सुपर स्मैश सीरीज के एक मैच में जब दोनों टीमों ने मिलकर मैच में कुल 497 रन बनाए। इसके साथ ही भारत-वेस्ट इंडीज के मैच का रिकॉर्ड भी टूट गया, जिसमें टी20 इतिहास के सबसे ज्यादा रन बने थे। रिटायरमेंट ले चुके जयवर्धने का कमाल...
- इंटरनेशनल क्रिकेट से रिटायरमेंट ले चुके श्रीलंकाई क्रिकेटर महेला जयवर्धने ने इस मैच में 116 रन की इनिंग खेली।
- उन्होंने 56 बॉल पर 12 चौके और 7 छक्कों की मदद से इतने रन बनाए, बवाजूद इसके अपनी टीम को जीत नहीं दिला सके।
- ये मैच ओटागो और जयवर्धने की टीम सेंट्रल डिस्ट्रिक के बीच चल रहा था, जिसमें ओटागो ने 1 रन से जीत दर्ज की।
- ओटागो ने पहले बैटिंग करते हुए 20 ओवर में 3 विकेट खोकर 249 रन बनाए, जबकि सेंट्रल डिस्ट्रिक टीम 20 ओवर में 248 रन ही बना सकी।
मैच में लगे 34 छक्के
- मैच में दोनों इनिंग को मिलाकर कुल 34 छक्के लगे। जीतने वाली ओटागो टीम ने 18, जबकि दूसरी टीम ने 16 सिक्स लगाए।
- मैच में कुल 38 चौके भी लगे। मैच में बने 497 रन में से 356 रन तो सिर्फ बाउंड्रीज से बने।
4 महीने में ही टूटा IND-WI रिकॉर्ड
- इसी साल अगस्त में फ्लोरिडा में भारत और वेस्ट इंडीज के बीच दो मैचों की टी20 सीरीज हुई थी।
- इसके पहले ही मैच में वेस्ट इंडीज ने जबरदस्त बैटिंग करते हुए 245 रन बनाए थे, जवाब में इंडियन टीम भी 244 रन तक पहुंच गई थी।
T20 के टॉप 3 स्कोर
टीमें    टूर्नामेंट    टोटल स्कोर    कब    कहां
ओटागो v सेंट्रल डिस्ट्रिक    सुपर स्मैश    497    21 दिसंबर, 2016    प्लेमाउथ (न्यूजीलैंड)
भारत v वेस्ट इंडीज    इंटरनेशनल मैच    489    27 अगस्त, 2016    फ्लोरिडा
चेन्नई सुपरकिंग्स v राजस्थान रॉयल्स    IPL    469    3 अप्रैल, 2010    चेन्नई

   

2016 में इंडिया के 7 अचीवमेंट्स: विराट बने तीसरे सबसे कामयाब कप्तान, 42 साल बाद टॉप पर भारत के दो ऑलराउंडर

नई दिल्ली.2016 में टीम इंडिया ने 7 बड़े अचीवमेंट्स हासिल किए। एक तरफ जहां विराट कोहली टेस्ट में जीत के मामले में भारतीय इतिहास के तीसरे सबसे कामयाब कप्तान बन गए, वहीं उन्होंने तीनों फॉर्मेट में साल के टॉप रन स्कोरर की पोजिशन भी हासिल कर ली। टेस्ट की बात करें तो सालभर दो ऑलराउंडर रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा की बेहतरीन परफॉर्मेंस रही। 42 साल बाद ICC की बॉलर्स की टेस्ट रैंकिंग में दो टॉप पोजिशन दो भारतीयों अश्विन और जडेजा को मिली। कैसे तीसरे कामयाब कप्तान बने कोहली...
1. धोनी के आधे मैच जीत चुके हैं विराट
- विराट कोहली की कप्तानी में इस साल भारत ने एक भी टेस्ट नहीं हारा। इसके चलते वे भारत के सबसे ज्यादा कामयाब टेस्ट कप्तानों की लिस्ट में तीसरे नंबर पर आ गए।
- कामयाब कप्तानों की लिस्ट में महेंद्र सिंह धोनी 27 जीतों के साथ नंबर वन पर हैं। इनमें से आधे यानी 14 टेस्ट कोहली जितवा चुके हैं। वे 22 मैचों में कप्तानी कर चुके हैं। धोनी के नाम 13 टेस्ट मैच में जीत दर्ज है।
- सबसे ज्यादा टेस्ट जीतने वाले कप्तानों में सौरव गांगुली 21 जीतों के साथ दूसरे नंबर पर हैं।
- कोहली ने अब तक 14 टेस्ट जीते हैं। उन्होंने मोहम्मद अजहरुद्दीन की बराबरी कर ली है, जिन्होंने 47 टेस्ट में से 14 में जीत हासिल की है। हालांकि, 14 टेस्ट में जीत दिलाने के लिए अजहर 1990 से 1999 का वक्त लगा था। कोहली ने दो साल में उनकी बराबरी कर ली। इस सक्सेस रेट की वजह से वे अजहर को पीछे छोड़ तीसरे सबसे कामयाब टेस्ट कप्तान बन गए हैं।
2. इस साल नंबर 1 टेस्ट टीम बनी इंडिया
- दिसंबर 2016 में टीम इंडिया की पोजिशन टेस्ट रैंकिंग में नंबर वन है।
- इसके बाद ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान का नंबर है।
3. कोहली बने इस साल के टॉप स्कोरर, जो रूट को पीछे छोड़ा
- कोहली इस साल तीनों फॉर्मेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बैट्समैन बन गए हैं।
- 8 साल बाद भारत से कोई बैट्समैन टॉप स्कोरर बना है। 2008 में सहवाग थे, उनके 2355 रन थे।
- कोहली ने इस साल 2595 रन बनाए हैं। तीनों फॉर्मेट में उन्होंने 37 मैच खेले हैं। 7 सेन्चुरी लगाई हैं। 13 हाफ सेन्चुरी हैं। हाइएस्ट स्कोर 235 का है।
- कोहली के बाद दूसरे नंबर पर हैं इंग्लैंड के बल्लेबाज जो रूट। उन्होंने 41 मैच खेलकर 2570 रन बनाए हैं।
4. 42 साल बाद टेस्ट बॉलिंग रैंकिंग में टॉप 2 इंडियन्स
- रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा ने ICC टेस्ट बॉलर रैंकिंग में टॉप टू पर जगह बनाई है।
- ऐसा 42 साल बाद हुआ है जब दो इंडियन बॉलर टेस्ट बॉलर रैंकिंग में टॉप टू पर हैं।
- इससे पहले 1974 में बिशन सिंह बेदी और भगवत चंद्रशेखर पहली और दूसरी पोजिशन पर थे।
5. अश्विन-जडेजा के रूप में भारत को कपिल जैसे वर्ल्ड क्लास आॅलराउंडर मिले
- अश्विन ने इस साल तीनों फॉर्मेट में 97 विकेट लिए हैं।
- इससे पहले अनिल कुंबले में 1996 में 90 विकेट लिए थे। कपिल ने 1983 में एक साल में तीनों फॉर्मेट में 100 विकेट लिए थे।
- इस साल टीम इंडिया को रवींद्र जडेजा और आर अश्विन जैसे धुरंधर ऑलराउंडर मिले हैं।
- इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में ऐसा पहली बार हुआ, जब किसी प्लेयर ने 200+ रन बनाए और 25 विकेट भी लिए।
6. सहवाग के बाद ट्रिपल सेन्चुरी लगाने वाला दूसरा भारतीय मिला
- वीरेंद्र सहवाग के बाद करुण नायर अकेले इंडियन बैट्समैन हैं, जिन्होंने ट्रिपल सेन्चुरी लगाई है।
- करुण नायर ने अपने तीसरे ही टेस्ट में 303 रनों की पारी खेली।
7. 23 साल बाद इंग्लैंड पर सबसे बड़ी जीत
- इंग्लैंड को टेस्ट सीरीज में 4-0 से हराकर भारत ने 23 साल बाद सबसे बड़ी जीत हासिल की है।
- इससे पहले 1992-93 में मो. अजहरुद्दीन की कप्तानी में टीम इंडिया ने इंग्लैंड को 3-0 से हराया था।

   

aaj ki khaber

Epaper

राष्ट्रीय संस्करण

हरियाणा प्लस

सिरसा संस्करण

 


YOU ARE VISITOR NO.1785522

Site Designed by Manmohit Grover