समाचार

किसान महापंचायत को लेकर कैमला में चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात


कार्यक्रम की तैयारियों का जायजा लेने के लिए पहुंचे विभिन्न विधानसभा क्षेत्रों के विधायक
पल पल न्यूज: घरौंडा, 9 जनवरी (प्रवीण )। कैमला गांव में रविवार को होने वाली किसान महापंचायत की तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। प्रदर्शनकारी किसानों के विरोध के चलते पुलिस प्रशासन द्वारा सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए है। कार्यक्रम स्थल से लेकर गांव के सभी एंट्री प्वांइट की बेरिकेटिंग कर दी गई है। वाटर केनन व अन्य उपकरणों के साथ भारी पुलिस बल द्वारा मोर्चा संभाला हुआ है। पुलिस के आलाधिकारियों द्वारा पुलिस कर्मचारियों को जरूरी दिशा-निर्देश जारी किए गए है। इसके साथ ही शनिवार को विभिन्न विधानसभा क्षेत्रों के विधायक व भाजपा नेताओं ने कार्यक्रम स्थल की तैयारियों का जायजा लिया और कहा कि कैमला की धरा पर एक ऐतिहासिक किसान महापंचायत होगी।
भारी सुरक्षा प्रबंधों के बीच कैमला गांव के लंगड़े बाबा सिद्ध धार्मिक स्थल पर रविवार की सुबह किसान महापंचायत होगी। महापंचायत को प्रदेश मुख्यमंत्री मनोहर लाल किसानों को संबोधित करेंगे और 30 करोड़ रुपए के विकास कार्यो का उद्घाटन करेंगे। शनिवार को विधायक हरविंद्र कल्याण ने पानीपत ग्रामीण विधायक महीपाल ढांडा, इंद्री विधायक रामकुमार कश्यप, भाजपा जिलाध्यक्ष योगेंद्र राणा, नीलोखेड़ी के पूर्व विधायक भगवानदास कबीरपंथी, भाजपा किसान मोर्चा के जिला अध्यक्ष सतीश राणा सहित अन्य पदाधिकारियों ने किसान महापंचायत की तैयारियों का जायजा लिया। सीएम मनोहर लाल के हेलीकोप्टर की लैंडिंग के लिए तैयार किए जा रहे हेलीपेड और मंच की तैयारियों का निरीक्षण किया। विधायक हरविंद्र कल्याण ने कहा कि तीन कृषि कानूनों को लेकर किसानों को भ्रमित करने का प्रयास किया जा रहा है। इन कानूनों को समझाने के लिए इस कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। यह कानून वास्तव में ऐतिहासिक है। सीएम मनोहर लाल से कानूनों की जानकारी लेने के बाद कानूनों को लेकर किसानों की भ्रांतियां दूर होगी। इसके अलावा 30 करोड़ रुपए के विकास कार्यो का शिलान्यास व उद्घाटन होगा।
भाजपा जिलाध्यक्ष योगेंद्र राणा ने कहा कि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों को कोई नहीं रोक रहा है उनको अपनी बात रखने की आजादी दी गई है। इसी तरह हमें भी अपनी बात रखने का अधिकार है। सरकार स ती से कानून लागू नहीं करना चाहती। वहीं विधायक रामकुमार कश्यप ने कहा कि किसान महापंचायत का आयोजन किसान भाईयों के लिए किया गया है। प्रदेश के सीएम खुद कृषि कानूनों की जानकारी देंगे।

पांच एंट्री प्वाइंट और सात स्थानों पर नाकेबंदी

किसान महापंचायत को लेकर सुरक्षा प्रबंध पु ता है। कैमला गांव के पांच एंट्री प्वाइंटों पर सात स्थानों पर नाकेबंदी की गई है। घरौंडा से कैमला की तरफ जाते हुए पुलिस ने कैमला रोड, गढ़ी मुल्तान के पास, कैमला बोरखा चौंक, पानी की टंकी के पास, डिंगर माजरा रोड, अलिपुर रोड, कोहंड रोड व अन्य स्थानों पर बेरिकेटिंग की गई है। इसके साथ ही वाटर केनन व अन्य उपकरणों के साथ भारी पुलिस बल तैनात किया गया है।

banner

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *