Thursday, December 3
समाचार

11 हजार वोल्टेज की चपेट में आने से किसान की मौत


बिजली अधिकारियों के विरुद्ध आपराधिक मामला दर्ज करने व एक करोड़ का मुआवजा देने की मांग
पल पल न्यूज़ रानियां 26 सितंबर (ओमप्रकाश)। बिजली विभाग के अधिकारियों की घोर लापरवाही के चलते खारियां के नजदीक ढाणियों में 11 हजार वोल्टेज की तार टूटने से एक किसान की मौके पर ही मौत हो गई जबकि उसकी पत्नी गंभीर रूप से घायल हुई है। घटना की सूचना मिलते ही बिजली विभाग के अधिकारी मौका पर पहुंच गए तथा पुलिस ने भी मौका पर पहुंचकर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है। गौरतलब हो कि रानियां हलका के विधायक चौ. रणजीत सिंह ने बिजली मंत्री का कार्यभार संभालने के उपरांत सर्वप्रथम की गई घोषणा में बिजली की लटकती ढीली तारों के अलावा टेढ़े-मेड़े खंभों को तुरंत ठीक करवाया जाएगा। इन निर्देशों के लंबे अरसे बाद भी उन्हीं के हलका में बिजली अधिकारियों की घोर लापरवाही के चलते 48 वर्षीय किसान सुशील पुत्र पूर्णाराम मोठसरा अपने खेत में लगे ट्यूबवेल की मोटर को स्टार्ट करते समय करंट लगने से मौके पर ही मौत हो गई। इस दौरान उनकी पत्नी कलावती उम्र 45 वर्ष भी गंभीर रूप से घायल हो गई है, जिसे तत्काल जिला के अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती करवाया गया है। घटना शनिवार सात बजे की है जैसे ही एग्रीकल्चर फीडर की लाइन चालू की गई इसी समय सड़क के किनारे पर लगे बिजली के पोल से हाई वोल्टेज की तार टूट कर एलटी की लाइन पर गिर गई जिसके कारण उनके ट्यूबेल की मोटर में हाई वोल्टेज का करंट आ गया तथा सुशील कुमार गंभीर रूप से झुलस गया। पास में बचाव करने के लिए आई उनकी पत्नी कलावती भी गंभीर रूप से घायल हो गई।
फ्रिज, पंखे, मधानी, कूलर सहित अनेक उपकरण जले, किसान बोले – लाखों का हुआ नुकसान
बलवंत पुत्र बिहारीलाल सहारण बलबीर पुत्र पूर्णाराम मांगेराम पुत्र नानकराम जोतराम पुत्र बख्तावर लीलू पुत्र बख्तावर हरि सिंह पुत्र बिहारीलाल रणवीर सिंह पुत्र हरी सिंह सहारण शीशपाल पुत्र साहब राम मोठसरा बनवारी लाल पुत्र चुन्नी राम के अलावा दर्जनभर ढाणियों में जाने वाली बिजली की लाइन से फ्रिज, पंखे, मधानी, कूलर, एलईडी बल्ब सहित काफी सामान जलकर नष्ट हो गए है। हाई वोल्टेज की करंट से बिजली के अनेकों मीटर भी जलकर नष्ट हो गए हैं। किसानों का आरोप है कि लाखों रुपए का नुकसान हुआ है जिसकी भरपाई बिजली विभाग द्वारा करवाई जानी चाहिए। मृतक के परिजनों का कहना है कि उनके घर में कमाने वाला कोई नहीं है इसलिए दोषी अधिकारियों के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज किया जाए तथा मृतक के परिवार को एक करोड़ रुपए का मुआवजा दिया जाए।

imaginary image

एक्सईएन बोले : दोषी के खिलाफ होगी कार्रवाई
इस बारे में बिजली विभाग के कार्यकारी अभियंता रविंद्र कालीरावण ने कहा कि वे घटनास्थल का मौका मुआयना कर रहे हैं, दोषी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। वहीं इस बारे में एसडीओ विकास ठुकराल ने कहा कि वे घटना स्थल पर ही है तथा जांच की जा रही है, दोषी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

परिजनों की मांग : अन्य विभाग की टीम बनाकर करवाएं जांग
मृतक के परिजनों ने कहा कि इस मामले की जांच बिजली विभाग के अधिकारियों के बजाय अन्य विभाग के उच्च अधिकारियों की टीम बनाकर जांच करवाई जाए जिसमें बिजली विभाग के अधिकारी को शामिल न किया जाए क्योंकि दोषी अधिकारी के खिलाफ जांच प्रभावित हो सकती है। मृतक के परिजनों ने इस मामले को न्यायालय में दायर करने की बात कही है। मृतक के परिजनों ने यह शिकायत ऊर्जा मंत्री चौधरी रणजीत सिंह को दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने लिए भी भेज दी है।

banner

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *