समाचारहरियाणा

भाजपा जनहित की बजाय लोगों को बर्बाद करने पर तुली है: सैलजा

पल पल न्यूज: सिरसा, 22 सितंबर। केंद्र व प्रदेश की भाजपा सरकार जनहित की बजाय लोगों को बर्बाद करने वाली नीतियां बनाकर लागू कर रही है। हर रोज नए फरमान जारी कर रही है। भाजपा सरकार किसी की बात नहीं सुन रही है। पीएम मोदी भी लोगों की बात सुनने की बजाय मन की बात करते हैं। हाल ही में केंद्र सरकार ने जो कृषि अध्यादेश पारित किए हैं, वे न सिर्फ किसानों, आढ़तियों के लिए काला कानून है बल्कि मंडी मजदूरों व आम लोगों के लिए भी परेशानी पैदा करने वाला है। यह बात कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुमारी सैलजा ने आज सिरसा के कांगे्रस भवन में पत्रकारों से बात करते हुए कही।
उन्होंने कहा कि कृषि अध्यादेशों के बारे में किसानों व आम जनता को अभी पता नहीं है। सरकार का लोकतंत्र में विश्वास नहीं है। सरकार लोकतंत्र की धज्जियां उड़ा रही है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने लोकसभा की परंपरा तोड़ी है। हम जानते हैं की सरकार के पास बहुमत है और सरकार ने राज्यसभा में ध्वनि मत से कृषि बिल पास करवाया है लेकिन ये कानून लोकहित में नहीं हैं। इस कानून से कम्पनियों पूंजीपतियों को फायदा होगा। इससे कृषि क्षेत्र बड़े घरानों के हाथों में चला जायेगा। कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि सरकार का काम लोकहित के लिए होता है लेकिन सरकार मुनाफाखोरी की ओर जा रही है। तीन अध्यादेश कानून में कांग्रेस आढ़तियों किसानों के साथ खड़ी है। उन्होंने कहा कि फसलों की एमएसपी पर खरीद नहीं होगी तो किसान खत्म हो जायेगा। हरियाणा राज्य सरकार गठबंधन से चल रही है। पहले ये लोग भाजपा के खिलाफ लड़ रहे थे। ये स्वार्थ के लिए काम कर रहे हैं, हमारी पार्टी जब आएगी हम इस कानून को खत्म करेगे। कांग्रेस पार्टी हमेशा ही लोगो की लड़ाई लड़ती रही है। आने वाले समय में भी लोगों की लडा़ई लड़ेंगे। सैलजा ने कहा कि 25 सितंबर भारत बंद में कांग्रेस पार्टी हर लड़ाई लडऩे वालों के साथ है। पिपली में किसानों पर हुए लाठी चार्ज के सवाल पर उन्होंने कहा कि सरकार में शामिल मंत्री कहते हैं कि लाठीचार्ज नहीं हुआ जबकि सीएम कहते हैं कि पुलिस ने आत्मरक्षा में लाठीचार्ज किया, लेकिन किसान इस लाठीचार्ज को नहीं भुलेंगे और अवसर आने पर सरकार से इसका बदला जरूर लेंगे। इससे पूर्व वे अनाजमंडी में चल रहे आढ़तियों के धरने पर पहुंची और पार्टी की ओर से पूरा समर्थन दिया। इसके अलावा किसानों के धरने पर भी पहुंचकर समर्थन दिया। उनके साथ बजरंग दास गर्ग, होशियारी लाल शर्मा, कालांवाली विधायक शीशपाल केहरवाला, पूर्व सांसद डॉ. सुशील इंदौरा, नवीन केडिया, सुभाष जोधपुरिया, आनंद बियानी, हीरा लाल शर्मा सहित अन्य कांग्रेस नेता थे।

banner

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *